Patrika Hindi News
UP Election 2017

दहेज को पति, सास व ननद ने गर्भवती महिला को छत से दिया धक्का, ससुर दिखा रहा है वर्दी की धौंस

Updated: IST Dowry Case
दहेज से जुड़ा ये मामला पढ़कर आ जाएगा आंखों में आंसू...

गाजियाबाद। दहेज प्रथा आखिर कब तक समाप्त होगी, कितनी महिलाओं की जाने दहेज प्रथा की भेंट चढ़ चुकी हैं। कितनी और महिलाएं दहेज हत्या की भेंट चढ़ेंगी। हजारों महिलाएं दहेज के दानवों के चलते कोर्ट कचहरी के चक्कर काट रही है या फिर बेचारी घर बैठीं हैं। इस बीच दहेज प्रथा से जुड़ा एक ऐसा ही मामला विजय नगर थानाक्षेत्र में सामने आया है। आरोप है कि दहेज के लोभियों ने एक महिला को छत से धक्का दे दिया।

साथ ही महिला के पेट में पल रहा तीन माह का गर्भ भी खत्म हो गया। उधर महिला की भी रीढ़ की हड्डी टूट गई है। वहीं आरोपी परिवार का मुखिया पुलिस में होने के कारण उल्टा सभी को देख लेने की धमकी दे रहा है। पीड़िता के परिजनों ने विजय नगर थाने में आरोपियों के खिलाफ प्राथमिकी दी है।

प्राप्त जानकारी के अनुसार सिहानी गेट थानाक्षेत्र के घूकना मोड़ नई बस्ती गली नंबर एक में जयपाल सिंह परिवार के साथ रहता था। जयपाल की पुत्री आरती ने बताया कि उसके पिता की तीन माह पहले मृत्यु हो चुकी है। उन्होंने दो वर्ष पूर्व अपनी पुत्री लक्ष्मी की शादी विजय नगर थानांतर्गत तिगरी गोल चक्कर ब्रह्मपुरी निवासी संतोष पुत्र हरिशंकर से की थी। शादी में जयपाल ने अपनी क्षमता से अधिक दान दहेज दिया था। मगर शादी के बाद से ही ससुराल पक्ष के लोग लक्ष्मी को दहेज के लिए प्रताड़ित करने लगे।

पीड़िता लक्ष्मी ने बताया कि मंगलवार की रात को पति संतोष, ननद आशा और सास सुशीला ने उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करना शुरु कर दिया। उसने अपने पिता की मौत की दुहाई देते हुए कहा कि दहेज लाने में वह असमर्थ है। मगर उनका दिल नहीं पसीजा। मंगलवार की तड़के करीब दो से ढाई बजे के करीब लक्ष्मी को तीनों ने मिलकर दूसरी मंजिल से धक्का दे दिया।

लक्ष्मी का कहना है कि उसके पेट में पल रहा तीन माह का बच्चा मिसक्रेरिज हो गया है और उसकी रीढ़ की हड्डी टूट गई है। लक्ष्मी का आरोप है कि उसका ससुर हरिशंकर पुलिस में है। जो उसके परिजनों को पुलिस की धमक चौकड़ी दिखाता है, साथ ही कहता है कि तुम सब को देख लूंगा। लक्ष्मी के परिजनों ने विजय नगर थाने में आरोपियों के खिलाफ शिकायती पत्र सौंपा है। इस संबंध में एसओ धीरेन्द्र यादव का कहना है कि मामले की जांच करायी जा रही है। सत्यता पाए जाने पर आरोपियों के खिलाफ कठोर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???