Patrika Hindi News

> > > > Wrestling on National Highway in Ghazipur reason very shocking

UP Election 2017

UP के गाजीपुर में नेशनल हाइवे पर क्यों हुआ दंगल, जानकर हैरान रह जाएंगे

Updated: IST Wrestling on National Highway
गाजीपुर रेल राज्यमन्त्री मनोज सिन्हा का संसदीय क्षेत्र और गृह जनपद भी है।

गाजीपुर. बनारस से गाजीपुर, गोरखपुर होते हुए नेपाल के सोनौनी बॉर्डर को जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 29 पर सदर कोतवाली अन्तर्गत पॉलिटेक्निक के सामने बुधवार को अलग ही नजारा था। जिस सड़क को भारी-भरकम ट्रकों के पहिये रौंदते हैं, उस पर पहलवान अपने दांव-पेंच दिखा रहे थे। वहां दंगल कराया जा रहा था। पर इस दंगल का मकसद मनोरंजन या मौज नहीं था। यह स्थानीय लोगों के विरोध का तरीका था। राष्ट्रीय राजगार्ग की जर्जर हालत की ओर सरकार और शासन-प्रशासन का ध्यान खींचने के लिये लोगों को यह अनोखी तरकीब सूझी थी।

वाराणसी से गाजीपुर होकर गोरखपुर और सोनौली नेपाल बार्डर तक जाने वाले इस नेशनल हाईवे की हालत बेहद खस्ता है। इसके गड्ढे जानलेवा हैं, जिस पर दुर्घटनाएं आए दिन होती रहती हैं। स्थानीय लोगों और समाजसेवी कार्यकर्ताओं ने जन प्रतिनिधियों के साथ संबंधित विभाग को कई बार इसकी शिकायत की, पत्र लिखे पर सब अनसुना कर दिया गया। इसके बाद लोगों ने चक्काजाम व हड़ताल जैसे विरोध के तरीकों को छोड़कर अनोखी तरकीब से प्रशासन और सरकार को आइना दिखाने और समस्या की ओर उनका ध्यान दिलाने की कोशिश की।

सड़क पर दंगल के आयोजक व दंगल कर रहे पहलवानों का कहना था परिवजन मन्त्री नितिन गडकरी सड़कों को सुधारने की बात करते हैं और पूर्वांचल के राष्ट्रीय राजमार्ग उन्हीं के अन्तर्गत आते हैं। इसके अलावा यह रेल राज्यमन्त्री का गृह जनपद भी है। हमारे इस अनोखे विरोध का मकसद दोनों मन्त्रियों का ध्यान इस जर्जर रोड की ओर आकृष्ट कराना है। समारिक और पर्यटन दोनों ही सूरत में यह राष्ट्रीय राजमार्ग महत्वपूर्ण है। यह रोड बौधपरिपथ को जोड़ने वाली है सारनाथ से कुशीनगर व लुम्बनी नेपाल तक इस सड़क से अंतर्राष्ट्रीय व राष्ट्रीय पर्यटकों का आना जाना लगा रहता है। स्थानीय निवासियों के लिए भी यह सड़क काफी महत्वपूर्ण है। लोगों ने इस सड़क को जल्द से जल्द बनवाने की मांग की।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???