Patrika Hindi News

269 स्वयं सहायता समूहों को बांटे रिवाल्विंग फण्ड के टोकन

Updated: IST gonda
गोण्डा के 124, बलरामपुर के 53, बहराइच के 57 व श्रावस्ती के 35 स्वयं सहायता समूहों सहित कुल 269 स्वयं समूहों को रिवाल्विगं फण्ड के रूप में पन्द्रह-पन्द्रह हजार रुपए के टोकन प्रदान किए गए।

गोंडा. सरकार महिला सशक्तीकरण के प्रति अत्यन्त संवदेनशील है। महिलाओं को स्वावलम्बी एवं आत्मनिर्भर बनाने के लिए सरकार द्वारा तमाम रोजगारपरक योजनाओं का क्रियान्वयन किया जा रहा है। ग्राम्य विकास विभाग द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के तहत समूहों का गठन कराकर महिलाओं को रोजगार मुहैया कराने के लिए रिवाल्विगं फंड के अतिरिक्त बैंकों के माध्यम से लोन भी उपलब्ध कराया जा रहा है। इसलिए महिलाएं इस सुनहरे अवसर का लाभ उठाएं। यह बातें देवीपाटन मण्डल के आयुक्त सुधीर दीक्षित ने मण्डलायुक्त सभागार में मण्डल के 269 स्वयं सहायता समूहों को रिवाल्विंग फण्ड की धनराशि का टोकन प्रदान करने के उपरान्त अपने सम्बोधन में कही।

मण्डलायुक्त ने ग्राम्य विकास विभाग द्वारा बड़े पैमाने पर स्वयं सहायता समूहों का गठन कराकर रिवाल्ंिवंग फण्ड दिलाने हेतु ग्राम्य विकास विभाग की सराहना करते हुए महिलाओं को भविष्य के लिए शुभकामनाएं। बताते चलें कि आयुक्त सभागार में ग्राम्य विकास विभाग द्वारा जनपद गोण्डा के 124, बलरामपुर के 53, बहराइच के 57 व श्रावस्ती के 35 स्वयं सहायता समूहों सहित कुल 269 स्वयं समूहों को रिवाल्विगं फण्ड के रूप में पन्द्रह-पन्द्रह हजार रुपए के टोकन प्रदान किए गए। पीडी गोण्डा वीरपाल ने बताया कि मण्डल के 269 स्वयं समूहों को कुल चालीस लाख पैंतीस हजार रुपए की धनराशि ग्राम्य विकास विभाग द्वारा प्रदान की गई है। रिवाल्विंग फण्ड की धनराशि स्वयं सहायता समूहों के खातों में स्थानान्तरित कर दी गई है।

प्रभारी डीएम/सीडीओ जयन्त कुमार दीक्षित ने इस अवसर पर मण्डल के जनपदों से आई स्वयं सहायता समूहों की अध्यक्षों एवं अन्य महिलाओं का आहवान करते हुए कहा कि सरकार उनको रोजगार एवं आत्मनिर्भर बनाने के लिए यह राशि प्रदान कर दी है, इसलिए वे सब प्रापत धनराशि का सदुपयोग करते हुए रोजगार को आगे बढ़ाएं जिससे भविष्य में बैंकों से लोन प्राप्त कर बड़े रोजगार पैदा कर सकें और उनकी आर्थिक एवं सामाजिक स्थिति में सुधार भी हो सके।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???