Patrika Hindi News

महिलाओं ने छेड़ा अभियान, कच्ची शराब भट्ठी बन्द हो

Updated: IST gonda
चैकी इंचार्ज का फरमान-दो सिपाही देंगे ड्युटीदी

गोण्डा।मुख्यालय के एक गांव की पीड़ित महिलायें बच्चों और पुरुषों के साथ गांव में बन रहे अवैध कच्ची शराब के विरुद्ध अभियान छेड़ कर गांव में शराब बनाने पर रोक लगाने की मांग की। जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक आवास के पास स्थित रानी पुरवा गांव अवैध कच्ची शराब को लेकर काफी दिनों से चर्चित है। यहाँ आये दिन शराब की छापेमारी कर सैकड़ों लीटर शराब नस्ट भी किये जा चुके है लेकिन इसके बावजूद यहाँ शराब बन्द नही हो रहा है।

सबसे आश्चर्य की बात तो यह है कि यह गांव जिलाधिकारी और पुलिस अधीक्षक के बंगले से पांच सौ मीटर के अन्दर है और दूसरी तरफ मिश्रौलिया पुलिस चैकी 200 मीटर पर है। इसके बावजूद यहाँ अवैध कच्ची शराब की भट्ठी प्रातः तीन बजे धधकने लगती है। जिसके विरोध में आज रुची मोदी समाज सेविका के नेतृत्व में गांव की सैकड़ों महिलाओं के साथ-साथ गांव के बूढ़े बच्चे सभी विरोध प्रदर्शन में शामिल हो गये। महिलाये हाथ में तख्ती लेकर नारे बाजी करते हुए गांव के मुख्य मार्गों से होकर शराब बन्दी के नारे लगाये और शराब बन्द करने की अपील की। इसी बीच मिश्रौलिया पुलिस चैकी के इन्चार्ज सहित अन्य पुलिस कर्मी पहुंच गये।

गांव अवैध शराब के मामले में काफी बदनाम है आये दिन छापे मारी के बाद भी पुलिस के संरक्षण में शराब बनाया जा रहा है जिससे यहाँ की महिलाये काफी परेशान है। उनका कहना है कि पुरुष मजदूरी करके आते और पहले इस भट्ठियों पर शराब पीते है। महिलाओं के विरोध करने पर मारते-पीटते है तथा अन्य शराब पीने वाले छेड़खानी करते है।

मिश्रौलिया चैकी के इन्चार्ज बी.एन. सिंह ने बताया कि अभी हाल में यहाँ से दो महिलाओं को शराब धन्धे में लिप्त होने पर जेल भेजा जा चुका है और आज से यहाँ दो सिपाहियों की ड्यिुटी लगा दी जायेगी जो यहाँ शराब बनाने वालों पर निगाह रखेंगे। गांव की महिलाओं का एक सबसे बड़ा दर्द यह है कि गांव में शराब बनने के कारण करीब दो दर्जन युवकों सादी नही हो पा रही है और जिनकी सादी हो गयी है वो महिलाये शराबी पुरुषों के कारण स्वयं मजदूरी मेहनत करने को मजबूर है।

नही है शौचालय

गांव में अधिकांश घरों में शौचालय नही है जिसके कारण उन्हें बाहर शौच के लिए जाना पड़ता है। ऐसे में शराबियों के अश्लीलता का शिकार होना पड़ रहा है।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???