Patrika Hindi News
Bhoot desktop

कुछ इस कदर लापरवाह हो गये हैं धरती के भगवान

Updated: IST hospital
जिला अस्पताल में लापरवाही का मामला सामने आया

गोरखपुर. सरकारी अस्पतालों की व्यवस्था और डॉक्टरों की मनमानी पर कोई लगाम नहीं लग पा रहा। डिलीवरी के लिए इमरजेंसी में भर्ती होने आई एक प्रसूता को डॉक्टर के नहीं आने पर मजबूरन ओपीडी की लाइन में लगना पड़ा। घंटों लाइन में लगी प्रसूता का दर्द इतना बढ़ा की उसने वहीं बच्चे को जनना पड़ा। भला हो उस दाई को जिसने इसमें मदद की। घटना ज़िला अस्पताल की है।

दीवान बाज़ार के रहने वाले हरिकेश की पत्नी रूबी को मंगलवार को प्रसव पीड़ा हुई। तेज़ दर्द से परेशान महिला को परिजन अस्पताल की इमरजेंसी लेकर आये। इमरजेंसी बंद होने की वजह से परेशान परिवारीजन ओपीडी में आ गए। पर्ची कटवा कर कराह रही महिला को लाइन में लगवा दिया गया। बेचारी दर्द को सहते हुए डॉक्टर का इंतज़ार कर रही थी लेकिन डॉक्टर समय से नहीं पहुंचे। इसी बीच प्रसव पीड़ा तेज़ होती गई।

परेशान होकर पति दौड़ते हुए वार्ड में गया और वहां मौजूद दाई को लेकर आया। महिला को कहीं ले जाने के लिए समय बिल्कुल नहीं है तो कुछ महिला मरीजों की मदद से वहीं ओपीडी के कमरे में लिटा कर किसी तरह डिलेवरी कराई। फिर आनन फानन में उसे वार्ड में शिफ्ट कराया गया।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???