Patrika Hindi News

जाटों व सरकार में हो सकता है टकराव, इंटरनेट सेवाएं बंद, धारा 144 लागू

Updated: IST Cm khattar protest
हरियाणा में पिछले 50 दिनों से चल रहे आरक्षण आंदोलन के धरने रविवार से नए रूप में होंगे

चंडीगढ़। हरियाणा में पिछले 50 दिनों से चल रहे आरक्षण आंदोलन के धरने रविवार से नए रूप में होंगे। पुरूष दिल्ली में तो महिलाएं हरियाणा में मोर्चा संभालेंगी। उधर एहतियात के तौर पर हरियाणा सरकार ने आधा दर्जन से अधिक जिलों को अलर्ट पर ले लिया है। जहां इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया गया है।

जाट आरक्षण संघर्ष समीति से मिली जानकारी के अनुसार रविवार को बाद दोपहर से ही दिल्ली कूच शुरू हो जाएगा। पुरूष जहां दिल्ली में मोर्चा संभालेंगे वहीं हरियाणा में चल रहे धरनों को समाप्त नहीं किया जाएगा। पुरूषों की अनुपस्थिति में महिलाएं मोर्चा संभालेंगी। महिलाओं को रविवार से ही धरनों का प्रभार सौंप दिया जाएगा।

उधर दिनभर हरियाणा के पुलिस महानिदेशक के.पी. सिंह तथा गृहसचिव रामनिवास ने सभी जिला उपायुक्तों तथा पुलिस अधीक्षकों के साथ बातचीत करके संवेदनशील जिलों में कानून-व्यवस्था का जायजा लिया। हरियाणा के कई जिलों में जहां पहले से ही रैपिड एक्शन फोर्स तैनात थी वहां आज आई.टी.बी.पी. की कई कंपनियों को मदद के लिए भेज दिया गया है। सरकार ने पहले से तैनात सैन्य बलों की मदद के लिए अतिरिक्त सेना बुला ली है। रविवार सुबह तक हरियाणा में अतिरिक्त सेना पहुंच जाएगी। हालात से निपटने के लिए आज रोहतक, जींद, भिवानी, दादरी, झज्जर, सोनीपत व हिसार जिलों में दिनभर बैठकों का दौर चलता रहा।

एहतियाती कदम उठाते हुए हरियाणा सरकार ने रोहतक, झज्जर,भिवानी, चरखी दादरी,झज्जर आदि में जहां इंटरनेट सेवाओं को बंद कर दिया वहीं सभी पैट्रोल पंप संचालकों को निर्देश जारी किए हैं कि वह खुले पैट्रोल व डीजल की बिक्री बंद करें। इसी दौरान अद्र्ध सैनिक बलों ने आज रोहतक-दिल्ली रेलवे लाइन पर गशत बढ़ा दी है। रेलवे लाइनों के आसपास चार से अधिक लोगों के जमा होने पर पाबंदी लगा दी गई है।

प्रशासन ने नवगठित जिला दादरी में भी इंटरनेट सेवाओं को बंद करते हुए धारा 144 लागू कर दी है। जिला उपायुक्त विजय कुमार ने रविवार को भी सभी सरकारी दफ्तर व अन्य संस्थान खुले रखने व कर्मचारियों को सामान्य की भांति अपने-अपने कार्यालयों में उपस्थित रहने के निर्देश जारी किए हैं।

फतेहाबाद जिले में भी धारा 144 लागू करते हुए पुलिस ने फ्लैग मार्च किया। उधर आरक्षण के दौरान संवेदनशील घोषित किए गए जिला हिसार में भी प्रशासन ने सेना को अलर्ट कर दिया गया है। हिसार जिला प्रशासन का दावा है कि जरूरत के अनुसार सेना को हिसार में बुला लिया जाएगा। झज्जर में जिला प्रशासन ने 18 से 21 मार्च तक इंटरनेट सेवाएं, एसएमएस सेवाओं पर रोक लगाते हुए शराब के ठेकों को भी बंद करने का फैसला किया है।

उधर जींद जिला प्रशासन ने रविवार को ट्रैक्टर-ट्रालियों के आवागमन को रोकने के लिए गावों में शिनाख्त अभियान चलाया। जिला उपायुक्त व पुलिस अधीक्षक ने बैठक करके ग्राम पंचायतों को निर्देश जारी किए हैं कि वह रविवार को किसी भी व्यक्ति को अपनी ट्रैक्टर ट्रालियां न दें। पुलिस ने कई जिलों में वाहन पंजीकरण का रिकार्ड भी एकत्र किया। माना जा रहा है कि रविवार को अगर ट्रैक्टरों के माध्यम से हरियाणा के लोग दिल्ली जाते हैं तो प्रशासन उनके मालिकों के खिलाफ कार्रवाई कर सकता है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???