Patrika Hindi News

> > > > badarwas cmo thretend mobile call to nurse

पत्रिका इम्पैक्ट- ऑफिस से गायब हुआ हाजिरी रजिस्टर, बीएमओ ने दी नर्स को धमकी

Updated: IST threatend call
यह स्थिति इसलिए निर्मित हुई, क्योंकि उप स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ एक नर्स को लंबी अनुपस्थिति के बाद भी वेतन जारी कर दिया। नर्स व बीएमओ के बीच हुई बातचीत का ऑडियो वायरल हो गया।

ग्वालियर। शिवपुरी जिले के उप स्वास्थ्य केंद्र खरैह में पदस्थ नर्स को बदरवास बीएमओ ने मोबाइल पर चेतावनी दी है कि यदि उसने जिला पंचायत के स्वास्थ्य समिति अध्यक्ष बंटी रघुवंशी के खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं कराई तो मैं तुम्हें हटा दूंगा। यह स्थिति इसलिए निर्मित हुई, क्योंकि उप स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ एक नर्स को लंबी अनुपस्थिति के बाद भी वेतन जारी कर दिया। नर्स व बीएमओ के बीच हुई बातचीत का ऑडियो वायरल हो गया।

गौरतलब है कि 22 सितंबर के अंक में पत्रिका ने-
एएनएम को घर बैठे वेतन दे रहा स्वास्थ्य महकमा, खबर प्रकाशित की। यह राज तब उजागर हुआ, जब उसी गांव में रहने वाले जिला पंचायत में स्वास्थ्य समिति अध्यक्ष बंटी रघुवंशी ने वो उपस्थिति रजिस्टर का अवलोकन कर लिया। मामला सामने आने पर बीएमओ बदरवास डॉ. आरए पिप्पल ने उप स्वास्थ्य केंद्र में पदस्थ नर्स दुर्गा से मोबाइल पर बात करते हुए पूछा कि उपस्थिति रजिस्टर कौन ले गया। जब नर्स ने बताया कि बंटी भैया आए थे और वे मेरी अनुपस्थिति में रजिस्टर ले गए।

यह सुनते ही बीएमओ ने पूछा कि तुम्हारा थाना कौन सा लगता है, जब नर्सने बताया कि रन्नौद थाना है, तो बीएमओ बोले कि तुम थाने जाकर बंटी के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराओ। साथ ही यह भी लिखवाना कि वो आए दिन अस्पताल आकर परेशान करता है। जब नर्स ने कहा कि मैं तो कभी पुलिस थाने नहीं गई, तो बीएमओ बोले कि यदि तुमने एफआईआर नहीं कराई तो मैं तुम्हे हटा दूंगा। बीएमओ व नर्स के बीच हुई बातचीत का ऑडियो वायरल होने से अब बीएमओ कुछ अलग अंदाज में सफाई दे रहे हैं।

किसी भी सरकारी अस्पताल से कोई भी दस्तावेज बिना परमीशन के नहीं ले जा सकता। भले ही वह जिला पंचायत में स्वास्थ्य समिति अध्यक्ष हो। इसलिए मैंने नर्स से एफआईआर को कहा है।
डॉ. आरए पिप्पल,बीएमओ बदरवास

मैं नहीं लाया रजिस्टर
उप स्वास्थ्य केंद्र खरैह का उपस्थिति रजिस्टर मैं लेकर नहीं आया। उसके कुछ पेजों की फोटोकॉपी करवाने के बाद वो रजिस्टर तो मैंने वापस करवा दिया। स्वास्थ्य विभाग की कमी उजागर होने पर बीएमओ इस तरह का नर्स पर दबाव बना रहे हैं।
बंटी रघुवंशी, अध्यक्ष स्वास्थ्य समिति, जिला पंचायत शिवपुरी

यह है मामला.....
बदरवास विकासखंडके ग्राम खरैह में पदस्थ एएनएम निशा बघेरिया पिछले 6 माह से न तो उप स्वास्थ्य केंद्र पहुंची और न ही गांव में किसी मरीज का उपचार किया। बावजूद इसके उनका वेतन हर महीने बेरोकटोक जारी होता रहा। जिला पंचायत के स्वास्थ्य समिति अध्यक्ष बंटी रघुवंशी ने जब अपने गांव में ऐसे हालात देखे तो उन्होंने सीएमएचओ कार्यालय से उपस्थिति पत्रक निकलवाए, जिसके आधार पर एएनएम को वेतन जारी किया गया। उस रजिस्टर में निशा के हस्ताक्षर ही नहीं थे और कई महीनों के कॉलम खाली होने के बाद भी बीएमओ बदरवास ने उसका वेतन जारी करवा दिया। सूत्रों की मानें तो सांठगांठ करके वेतन जारी किया गया है।

मई-जून को छोड़ शेष माह में दिया वेतन
रजिस्टर में अनुपस्थिति के बावजूद निशा बघेरिया को मई व जून को छोड़कर शेष सभी महीनों में वेतन जारी किया गया। जिसमें मार्च में 15988 रुपए, अप्रैल में 21553 रुपए, जुलाई में 22484 रुपए एवं अगस्त में 22484 रुपए वेतन जारी किया गया।

यह भी पढ़ें : एक ऐसा स्कूल जहां रोते हुए जाती हैं लड़कियां स्कूल, जानिए क्या हैं कारण

यह भी पढ़ें : मार्केटिंग सोसायटी प्रबंधक के घर पर लोकायुक्त का छापा, लाखों की काली कमाई का खुलासा

यह भी पढ़ें :आंखें फोड़ी, शरीर में करंट लगाया, मन नहीं भरा तो लाश के माथे पर लिख दिया खुद का नाम

यह भी पढ़ें : कुपोषण का गढ़ बनता जा रहा है श्योपुर का कराहल, मिले 181 कुपोषित और 29 अति कुपोषित

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे