Patrika Hindi News

ये तेल हैं डेंड्रफ का रामबाण इलाज,बालों की ये समस्याएं भी हो जाएंगी दूर

Updated: IST easy tips to stop dandruff
बालों में डेंड्रफ आम समस्या है, लोग डेंड्रफ से खासा परेशान रहते हैं, लेकिन जैविक (आर्गेनिक) तेलों की मदद से न सिर्फ डेंड्रफ की समस्या दूर हो सकती है, बल्कि आपके बाल भी स्वस्थ रहेंगे।

ग्वालियर/श्योपुर। बालों में डेंड्रफ आम समस्या है, लोग डेंड्रफ से खासा परेशान रहते हैं, लेकिन जैविक (आर्गेनिक) तेलों की मदद से न सिर्फ डेंड्रफ की समस्या दूर हो सकती है, बल्कि आपके बाल भी स्वस्थ रहेंगे। नींबू का तेल, तुलसी का तेल और चाय के पौधे का तेल आपके सिर और बालों से जुड़ी सारी समस्याओं को दूर कर सकते हैं। कुछ आवश्यक तेलों के इस्तेमाल से होने वाले फायदों के बारे में ये कुछ बातें जानें।

Image may contain: plant and nature

नींबू का तेल आजमाएं: नींबू के गुणों से समृद्ध नींबू का तेल तैलीय स्कैल्प के लोगों के लिए उम्दा टॉनिक है। एंटीसेप्टिक व एंटी माइक्रोबियल होने के कारण रूसी और अन्य इन्फेक्शंस दूर करने के साथ ही यह बालों को लंबे समय तक खुशबूदार बनाए रखता है, इस तेल को लगाने के बाद इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि बाल धोकर ही धूप में निकलें, क्योंकि सिट्रस (खट्टा फल) धूप में प्रतिक्रिया करने के लिए जाने जाते हैं, ऐसे में आपके बालों को नुकसान पहुंच सकता है।

Image may contain: drink

चाय के पेड़ का तेल: इसमें एंटी फंगल और जीवाणुरोधी होता है, इससे यह स्कैल्प पर इंफेक्शन फैलना, यीस्ट बनना रोकता है, यह खोपड़ी में अच्छी तरह से अवशोषित हो जाता है, इसलिए इसे रूसी हटाने के लिए रात भर सिर में लगा छोड़ दें, अन्य तेलों की अपेक्षा यह हल्का भी होता है। हालांकि संवेदनशील स्कैल्प में खुजली व जलन से बचने के लिए इस तेल में जोजोबा या जैतून का तेल मिलाकर लगाएं।

तुलसी का तेल: सफेद फ्लैक्स को दूर करने के लिए तुलसी का तेल बेहतरीन औषधि है, रूसी दूर करने के अलावा यह बालों को कंडीशन कर मुलायम बनाने के साथ ही रक्त संचार सही कर बालों को स्वस्थ रखता है और बालों को घना व लंबा करता है। इसे कम से कम एक घंटे लगाएं, तुलसी के तेल में लैवेंडर या रोजमैरी का तेल मिलाकर भी लगाया जा सकता हैए इससे बालों में चमक भी आएगी।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???