Patrika Hindi News

कूलर में करंट से किसान की मौत

Updated: IST Farmer dies due to current in cooler
बंद कूलर को सुधारने की कोशिश में किसान को करंट लग गया। बिजली के झटके से वह बच नहीं सका। उसकी वहीं मौत हो गई। पुलिस ने बताया बड़ा गांव (मोहना) में राजेन्द्र धाकड़ (25) पुत्र विजय सिंह के कमरे का कूलर सोमवार को चलते हुए बंद हो गया। राजेन्द्र ने कूलर चालू करने की कोशिश की।

ग्वालियर . बंद कूलर को सुधारने की कोशिश में किसान को करंट लग गया। बिजली के झटके से वह बच नहीं सका। उसकी वहीं मौत हो गई। पुलिस ने बताया बड़ा गांव (मोहना) में राजेन्द्र धाकड़ (25) पुत्र विजय सिंह के कमरे का कूलर सोमवार को चलते हुए बंद हो गया। राजेन्द्र ने कूलर चालू करने की कोशिश की। जल्दबाजी में कूलर का प्लग निकालना भूल गया। नंगे पैर कूलर के फटटे खोलकर उसे सुधारने बैठा। कूलर में करंट था उससे राजेन्द्र चिपक गया। बचने के लिए उसने शोर भी मचाया लेकिन जब तक घर के लोग मदद के लिए आते राजेन्द्र बेहोश हो चुका था।

शव को सड़क पर रख चक्काजाम

ग्वालियर. छज्जे पर ग्रीन पर्दा डालते समय हाईटेंशन लाइन के करंट की चपेट में आए विनोद प्रजापति की मौत हो गई थी। मृतक का पोस्टमार्टम सोमवार को कराया गया। हाईटेंशन लाइन न हटाए जाने को लेकर आक्रोशित रिश्तेदार और कॉलोनी वासियों ने थाटीपुर जोन पर प्रदर्शन किया। झलकारी बाई तिराहे पर प्रदर्शन कर शव को सड़क पर रखकर चक्काजाम किया। प्रशासनिक अफसरों के काफी प्रयास के बाद आक्रोशित लोगों को शांत किया गया। उनकी मांग थी कि हाईटेंशन लाइन मौत की लाइन है। इसको हटाए जाने को लेकर कई बार ज्ञापन दे चुके हैं। बिजली कंपनी असुरक्षित हाईटेंशन लाइन को हटाए जाने में रूचि नहीं दिखा रही है। तहसीलदार अनिल राघव ने प्रदर्शन कारियों की बात को बिजली अफसरों के समक्ष रखते हुए लाइन हटाए जाने का आश्वासन दिया। इसके बाद शव को अंतिम संस्कार के लिए ले गए।

उल्लेखनीय है कि रविवार दोपहर श्रीनगर कॉलोनी में रहने वाले किराना व्यापारी विनोद पर्दा डालने के लिए छज्जे पर कील ठोक रहा था तभी हाईटेंशन लाइन की चपेट में आ गया। सोमवार को शव का पोस्टमार्टम कराकर आक्रोशित परिजनों, रिश्तेदार व मोहल्ला वासियों ने थाटीपुर जोन के बिजली सब स्टेशन पर नारेवाजी कर आक्रोशित लोगों ने चक्काजाम कर मांगों को रखा। तभी कांग्रेस नेता पुरूषोत्तम बनोरिया ने पीडि़त परिवार की मांगों को रखा। प्रशासन की आेर से आर्थिक मदद के रूप में दस हजार की राशि स्वीकृत की गई।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???