Patrika Hindi News

इस खास तरीके से वन्य जीवों को पिलाया जाएगा पानी

Updated: IST animals drinking water
ओहदपुर के जंगल में स्पेशल प्लेट्स (शोसर) रखने के निर्देश दिए गए हैं, जिसमें पानी भरकर रखा जाएगा। ताकि जंगली जीव मसलन कई प्रकार...

ग्वालियर . ओहदपुर के जंगल में स्पेशल प्लेट्स (शोसर) रखने के निर्देश दिए गए हैं, जिसमें पानी भरकर रखा जाएगा। ताकि जंगली जीव मसलन कई प्रकार के हिरण और चीतलों को पानी उपलब्ध कराया जा सके। विशेष बात ये है कि ओहदपुर इलाके का जंगल वन्य जीवों के लिहाज से बेहद सघन माना जाता है।
बता दें कि कलेक्ट्रेट के पीछे सहित तमाम पहाडि़यां ओहदपुर जंगल के दायरे में आंती हैं। यहां समुचित नदियां न होने की वजह से यहां पानी के विशेष इंतजाम करने का दावा वन विभाग की तरफ से किया जा रहा है। हालांकि इस संदर्भ में डीएफओ विक्रम सिंह का कहना है कि पानी के लिए गंभीरता से इंतजाम किए जा रहे हैं। दूसरे जंगलों में पानी प्रबंध के पुख्ता इंतजाम किए जा रहे हैं।

मोरों के लिए कोई प्रबंध नहीं
ग्वालियर के गांवों खासकर ग्वालियर और मुरार बेल्ट में हजारों की संख्या में राष्ट्रीय पक्षी मोर पाए जाते हैं। कहने को तो ये राजस्व क्षेत्र में रहते हैं,लेकिन इनकी सक्रियता जंगलों में रहती है। एेसे में राजस्व और वन्य प्रशासन की साझा जिम्मेवारी बनती है कि हीट स्ट्रोक से बचाने के लिए कोई ठोस उपाय करें। अलबत्ता इस संदर्भ में कोई खास प्रयास अभी तक दोनों विभागों की तरफ से नहीं किए गए हैं। डीएफओ सिंह ने स्वीकार किया कि अभी कोई प्रबंध नहीं है, लेकिन इस ओर जल्दी ही ध्यान देकर कार्य योजना को प्रभावी तौर पर लागू किया जाएगा।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???