Patrika Hindi News

> > > > land occupied by others

पाकिस्तान में पिता, डबरा में बेटी और जमीन पर दूसरों का कब्जा 

Updated: IST land occupied
जमीन को वापस दिलाने के लिए कोर्ट ने कार्रवाई शुरू कर दी है, लेकिन धोखाधड़ी करने वालों को पकडऩे के लिए पुलिस सपोर्ट नहीं कर रही। अब इस मामले में महिला का कहना है कि दबंग से जमीन मुक्त नहीं कराई तो वे भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगीं।

ग्वालियर। देश के बटवारे के दौरान पाकिस्तान गए पिता की इकलौती बेटी अपनी जमीन को पाने के लिए शासन-प्रशासन के चक्कर लगा रही है। जमीन को वापस दिलाने के लिए कोर्ट ने कार्रवाई शुरू कर दी है, लेकिन धोखाधड़ी करने वालों को पकडऩे के लिए पुलिस सपोर्ट नहीं कर रही। अब इस मामले में महिला का कहना है कि दबंग से जमीन मुक्त नहीं कराई तो वे भूख हड़ताल पर बैठ जाएंगीं।

मामला डबरा निवासी रशीदन से जुड़ा हुआ है, उनके पिता मुरैना जिले के रिठौरा थाना क्षेत्र के मलखानपुरा गांव में थे, तत्कालीन समय में वे सीमापार चले गए और विवाहित बेटी की ससुराल डबरा में होने के कारण वह यहीं रह गई। इसके बाद से धीरे-धीरे पुराने परिचित परिवार से संबंध रखने वाले खचेरू निवासी जगनापुरा ग्वालियर ने जमीन हथियाने के लिए फर्जी दस्तावेज तैयार करा लिए और अब कुछ जमीन बेच भी दी है। महिला ने अब पुश्तैनी जमीन को वापस दिलाने के लिए कोशिशें शुरू की तो अधिकारियों ने साथ नहीं दिया और अब कोर्ट के आदेश के बाद भी पुलिस सपोर्ट नहीं कर रही है।

नहीं सुन रहे अधिकारी
हमारे पिताजी की जमीन थी, जिसको खचेरू ने हड़प लिया, जब हमको पता लगा तो हमने वापस मांगी तो उसने हमको धमकाया, हमने इसकी शिकायत पहले अधिकारियों से की थी, सुनवाई नहीं हुई तो कोर्ट गए वहां से कार्रवाई के आदेश हुए। अब एफआईआर तो हो गई, लेकिन पुलिस अब धोखेबाज को पकड़ नहीं रही है, वे हमें धमका रहा है।
कोर्ट के आदेश पर एफआईआर
फरियादिया द्वारा अपनी जमीन को वापस पाने के लिए पहले अधिकारियों के चक्कर लगाए, लेकिन जब सुनवाई नहीं हुई तो कोर्ट का सहारा लिया। इसके बाद कोर्ट ने धोखाधड़ी करने वाले के खिलाफ एफआईआर दर्ज करने के आदेश दिए थे, पुलिस ने एफआईआर तो की, लेकिन गिरफ्तार अब तक नहीं किया, इससे पूरे परिवार में भय है।

बना लिए दो राशनकार्ड
रसीदन का कहना है कि खचेरू ने जमीन को हड़पने के लिए दो बल्दियत वाले राशनकार्ड भी बनवा लिए थे। इसके जरिए वह उनकी बहन के वारिसों की जमीन भी हड़पने की साजिश रचता रहा है। महिला ने बताया कि जमीन हड़पने के लिए पहले उसने हमारे पिता खुमानी का अपना बालिद बताया और दूसरी जमीन हड़पने के लिए बालिद की जगह नसीर खां लिखवा लिया।इन दस्तावेजों के सहारे जमीन हड़प ली थीं। अब मामला दर्ज होने के बाद पुलिस इस मामले में वरिष्ठ अधिकारियों को गुमराह कर रही है।

'पक्षकार रशीदन बी की जमीन को उनके पुराने पारिवारिक परिचित द्वारा हड़पने का मामला था। इसमें न्यायालय ने एफआईआर के आदेश दिए थे। महिला के अनुसार एफआईआर तो हो गई लेकिन प्रशासन सपोर्ट नहीं मिल रहा।'
- बसंत कुमार चतुर्वेेदी, एडवोकेट

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???