Patrika Hindi News

Photo Icon संक्रांती में गुड़-तिल का मिलन, बढ़ा देता है त्यौहार की मिठास

Updated: IST gajak
मकर संक्रांति पर इस बार तिल और गुड़ से तैयार की गई गुजिया का लाजवाब स्वाद लोग ले सकेंगे। खास बात यह भी कि ये गुजिया फ्लेवर्ड है।

ग्वालियर। मकर संक्रांति पर इस बार तिल और गुड़ से तैयार की गई गुजिया का लाजवाब स्वाद लोग ले सकेंगे। खास बात यह भी कि ये गुजिया फ्लेवर्ड है। इसके अलावा जायका बढ़ाने के लिए मावा वाटी और तिल के कई तरह के लड्डू भी कुछ दुकानदारों ने तैयार कराए हैं।

Image may contain: food

तिल की जो गुजिया इस बार दुकानों पर उपलब्ध है, उसका रंग-रूप देखकर ही स्वाद का अंदाजा लगाया जा सकता है। तिल और गुड़ से तैयार किए गए गुजिया के खोल के भीतर मावा और ड्राय फ्रूट्स की भरावन इसके स्वाद को बढ़ाने वाली है। गजक कारोबारी पिंकी पचौरी ने बताया कि गुजिया के अलावा मावा वाटी भी खास तौर पर मकर संक्रांति के लिए तैयार की गई है। शक्कर और तिल के मिश्रण से तैयार किए गए इस व्यंजन में मावा का पुट इसे सॉफ्ट बनाने के लिए है। इसके अलावा खड़े तिल के लड्डू भी इस बार दुकानों पर तैयार किए गए हैं।

CLICK HERE:

विदेशी भी है यहां की गजक के दीवाने, सर्दीयों में बढ़ जाती है इस मिठाई की डिमांड
तिल और गुड़ से बनी गजक का स्वाद तो बढि़या है ही इसके साथ ही यह स्वास्थ्य के लिए भी फायदेमंद है। दरअसल तिल में कई एेसे तत्व होते हैं जो कि हमारे विभिन्न बीमारियों से लडऩे में सहायक होते हैं। तिल में मोनो-सैचुरेटेड फैटी एसिड होता है जो शरीर से कोलेस्ट्रोल को कम करता है। दिल से जुड़ी बीमारियों के लिए भी यह बेहद फायदेमंद है। इसके साथ ही तिल में सेसमीन नाम का एन्टीऑक्सिडेंट पाया जाता है जो कैंसर कोशिकाओं को बढऩे से रोकता है। अपनी इस खूबी की वजह से ही यह लंग कैंसर पेट के कैंसर ल्यूकेमिया प्रोस्टेट कैंसर ब्रेस्ट कैंसर होने की आशंका को कम करता है।

मकर संक्रांति पर तिल और गुड़ का सबसे पसंदीदा व्यंजन गजक ही रहता है। इस बार भी त्योहार पर गजक की बिक्री परवान चढ़ेेगी। इसके लिए दुकानों पर गजक का पर्याप्त स्टॉक कर लिया गया है। एक अनुमान के मुताबिक मकर संक्रांति पर अकेले मुरैना शहर में 40 लाख रुपए की गजक का विक्रय हो सकता है, क्योंकि इस समय ठंड का असर भी चरम पर है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???