Patrika Hindi News

ऑनलाइन लाइब्रेरी मतलब नॉलेज का सागर

Updated: IST workshop on Online Library
आज हर क्षेत्र डिजिटिलाइज हो रहा है। ऐसे में शिक्षा का क्षेत्र कैसे पीछे रह सकता है। ऑनलाइन लाइब्रेरी के जरिए आप अपने ज्ञान को और भी बढ़ा सकते हैं।

ग्वालियर. आज हर क्षेत्र डिजिटिलाइज हो रहा है। ऐसे में शिक्षा का क्षेत्र कैसे पीछे रह सकता है। ऑनलाइन लाइब्रेरी के जरिए आप अपने ज्ञान को और भी बढ़ा सकते हैं। यह बात जेयू के प्रो.जेएन गौतम ने कहीं। मौका था प्रगति शिक्षा संस्थान द्वारा आयोजित तीन दिवसीय राष्ट्रीय कार्यशाला के दूसरे दिन का।

कार्यक्रम में प्रो. गौतम ने स्टूडेंट्स को संबोधित करते हुए कहा कि ऑनलाइन लाइब्रेरी के जरिए हम अपने विषय से जुड़े कोई भी टॉपिक को आसानी से पढ़ सकते हैं, लेकि न इसका मतलब यह नहीं होना चाहिए की हर छोटी सी छोटी चीजों के लिए इंटरनेट को सर्च करना शुरू कर दें।

बताई माइक्रोवेब एक्सपोजर से होने वाली समस्या

कार्यशाला के दूसरे सत्र में प्रो. डीसी तिवारी ने नवीन तकनीकी के अधिकाधिक प्रयोग की बात कही। प्रतिभागियों को बताया कि किस तरह नवीन तकनीकियों के प्रयोग से व माइक्रोवेब के एक्सपोजर द्वारा बढ़ती स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं से अवगत कराया तथा तकनीकि के संतुलित उपयोग द्वारा माईक्रोवेब हजार्डस से बचाव के तरीके की जानकारी दी।

तीसरे सत्र में प्रो.जेएन बालिया ने सूचना एवं तकनीकी में शैक्षिक काउंसिलिंग एवं फीडबैक के उपयोग से अवगत कराते हुए शिक्षक को अपनी व्यवसाय के प्रति बढ़ते उत्तरदायित्वों से रुबरु कराया।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???