Patrika Hindi News

Photo Icon अभी से बनाएं एक्शन प्लान, एग्जाम आ गये हैं पास

Updated: IST exam alert
नए वर्ष की शुरुआत के साथ ही शुरू हो गया परीक्षा का टेंशन। मार्च में बोर्ड एग्जाम सहित कई कॉम्पटीटिव एग्जाम होंगे। इसकी तैयारी के लिए अभी से ही एक्शन प्लान बनाना होगा।

ग्वालियर। नए वर्ष की शुरुआत के साथ ही शुरू हो गया परीक्षा का टेंशन। मार्च में बोर्ड एग्जाम सहित कई कॉम्पटीटिव एग्जाम होंगे। इसकी तैयारी के लिए अभी से ही एक्शन प्लान बनाना होगा। इसके जरिए ही आप परीक्षा में बेहतर परफोर्म कर सकेंगे। स्टूडेंट्स परीक्षा का नाम सुनते ही तनाव में आ जाते हैं इससे भी निपटना होगा। आइए जानते हैं कि कैसे बोर्ड परीक्षा की तैयारी करें।

एक बार में पूरा नहीं पढ़ें
अकसर स्टूडेंट्स बहुत सारी चीजों को एक साथ व एक ही दिन में पढऩे की कोशिश करते हैं। ऐसा करने से बचना चाहिए। आप सभी विषय को एक इकाई में बांटे तथा एक दिन में एक विषय की एक इकाई को ढंग से पढ़ें। यह इकाई दो या तीन यूनिट को मिलकर भी बना सकते है।

रिवीजन के लिए बेस्ट है फरवरी
फरवरी महीने आने के साथ ही बोर्ड एग्जाम का काउंटडाउन शुरू हो जाता है। कम समय होने के कारण स्टूडेंट्स कुछ भी नया पढऩे से बचें जो पढ़ चुके हैं वही काफी है। अब बचे हुए समय में जितना हो सके उतना रिवीजन को समय दें। किसी विषय में अगर आप मजबूत हैं तो दूसरे विषय में समय दें।

No automatic alt text available.

पढ़ाई पर शुरूआत से दें ध्यान, तनाव पर काबू पाएं
बोर्ड एग्जाम की तैयारी एक दिन एक में नहीं की जा सकती है। इसके लिए आपको पूरे साल मेहनत करने की जरूरत होती है। जैसे-जैसे एग्जाम करीब आता है स्टूडेट्स के मन में डर घर कर जाता है। लेकिन अब जो समय बचा है वह बहुत ही महत्वपूर्ण है। इसलिए जो कोर्स हो गया है उसके रिवीजन के लिए प्लान बना लें और उसके अनुसार सभी सब्जेक्ट का रिवीजन करें। बोर्ड एग्जाम करीब आते ही तनाव होना स्वाभाविक है। इसी तनाव पर काबू पाकर आप परीक्षा में काफी अच्छे अंक अर्जित कर सकते हैं।

बनाएं समय सारणी
स्टडी में आपको मेहनत के अनुसार सफलता मिले इसके लिए जरूरी है कि आप अपनी दिनचर्या को नियमित करें। तथा इसको एक समय सारणी के रूप में व्यवस्थित करें। टाइम टेबल ऐसा हो जिसमें आपके शरीर को आराम भी मिल सके और अधिकतम समय अध्ययन केंद्रित भी रहे।

स्कोरिंग सब्जेक्ट पर दें ध्यान
बोर्ड एग्जाम में कुछ सब्जेक्ट ऐसे होते है जिनमें स्टूडेंट्स काफी आसानी से अच्छे माक्र्स ले सकते हैं। इसलिए प्र्रतिशत बढ़ाने के लिए बेहतर होगा कि स्कोरिंग सब्जेक्ट पर ज्यादा फोकस किया जाए।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???