Patrika Hindi News

Video Icon राष्ट्रपति चुनाव: रामनाथ कोविंद का है इस शहर से खास रिश्ता, जानिए उनके बारे में कुछ रोचक बातें

Updated: IST presidential election 2017 ramnath kovind
राष्ट्रपति पद के लिए आज मतदान हो रहे हैं। भाजपा के रामनाथ कोंविंद और कांग्रेस की तरफ से मीरा कुमार मैदान में हैं। ऐसे में हम आपको रामनाथ कोविंद के बारे मेंं कुछ खास बातें बताने जा रहे हैं।

पवन दीक्षित @ ग्वालियर

राष्ट्रपति पद के लिए आज मतदान हो रहे हैं। भाजपा के नेतृत्व वाली एनडीए के रामनाथ कोंविंद और कांग्रेस के नेतृत्व वाली यूपीए की तरफ से मीरा कुमार मैदान में हैं। हालांकि पाला रामनाथ कोविंद की ओर झुका हुआ है। ऐसे में हम आपको रामनाथ कोविंद के बारे मेंं कुछ खास बातें बताने जा रहे हैं।

Image may contain: 4 people, people smiling

राष्ट्रपति उम्मीदवार रामनाथ कोविंद का ग्वालियर से घनिष्ट रिश्ता है। वे पिछले सालों में कई बार पार्टी और निजी कार्यक्रमों में ग्वालियर आए। शहर की संस्कृ ति और विरासत पर लोगों से चर्चा करते थे। ग्वालियर की राजनीति में सबसे ज्यादा पसंद सांसद नारायण कृष्ण शेजवलकर को करते थे। जब भी वे शहर में आते तो उनके परिवार से मुलाकात करने के लिए जाते थे।

कोली समाज से है खास नाता
कोविंद को ग्वालियर से घनिष्टता बनाने के लिए कोली समाज ने महती भूमिका निभाई। जब भी समाज द्वारा कार्यक्रम आयोजित किए जाते थे तो कोविंद को निमंत्रण भेजा जाता था। कई बार अतिथि के रूप में कार्यक्रम में भाग लिया।

डोंगर बाबा मंदिर पर कर चुके दर्शन
समाज के लोगों की पहल पर कोविंद डबरा क्षेत्र के गिर्जारा गांव स्थित डोंगर बाबा मंदिर जुड़े थे। यहां अब तक दो से तीन बार दर्शन करने जा चुके हैं। यहां पहुंचकर समाज के लोगों से बातचीत करते और उनके दुख-दर्द को बांटते रहे।

Image may contain: 5 people, people standing

दही पराठा पसंद करते हैं रामनाथ कोविंद
करीब दो साल पहले नितिन और चंचल तरेटिया की शादी में भाग लेने के लिए वे आए थे। यह उनका निजी पारिवारिक कार्यक्रम था। इस कार्यक्रम में भाग लेने के लिए 29 जनवरी 2015 में आए थे। अब तक वे जब भी ग्वालियर आए तो रिश्तेदार आरएस तरेटिया के घर भी भोजन करते थे। भोजन में वे दही पराठा पसंद करते। रात्रि विश्राम भी यहीं किया करते थे।

ram nath kovind is bjp named as presidential candi

पीताम्बरा पीठ में है उनकी आस्था
कोविंद की ग्वालियर के अलावा, गुना, शिवपुरी सहित अन्य शहरों से लोगों से जुड़े हुए है। वे इन क्षेत्रों के मंदिरों पर पूजा अर्चना भी कर चुके हैं। इसके अलावा दतिया की पीताम्बरा पीठ पर भी अटूट आस्था है। पीताम्बरा मंदिर से वे कई सालो ंसे जुड़े है यहां समय मिलते ही दर्शन करने आते जाते रहे हैं। अभी राष्ट्रपति के उम्मीदवार घोषित होने से महज 11 दिन पहले ही वो मां पीतांबरा पीठ दर्शन करने आए थे। लोग मानते हैं कि माता के आर्शीवाद से ही वो राष्ट्रपति के उम्मीदवार बने।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???