Patrika Hindi News

बच्चे थे 120 दर्ज, हाजिर मिला एक

Updated: IST gwalior
एसडीएम भितरवार ने छात्रावास व आंगनबाड़ी केंद्रों में पाई खामियां

ग्वालियर आंगनबाड़ी केंद्र में 120 बच्चे दर्ज थे, जब एसडीएम इकबाल मोहम्मद निरीक्षण को पहुंचे तो वहां मात्र एक बच्चा ही मिला। ऐसे ही हालात छात्रावास में दिखे। यहां भी अधीक्षक गैर हाजिर मिली। दर्ज बच्चे भी कम थे। ऐसा नहीं की यह स्थिति पहली बार थी, इससे पूर्व भी छात्र नदारद थे मगर दूसरी बार भी हालात नहीं सुधरे।

वार्ड क्रं.4 स्थित आंगनबाड़ी केन्द्र में एसडीएम इकबाल मोहम्मद ने बुधवार को निरीक्षण किया। यहां पर कार्यकर्ता उर्मिला गोस्वामी और सहायिका सीमा कुशवाह उपस्थित मिले लेकिन 120 उपस्थिति वाले केंद्र में मात्र एक बच्चा देखकर नाराज हुए और कहा कि वार्ड में जाकर लोगों को केन्द्र पर बच्चें भेजे जाने के लिए जागरूक करें। देवरीकलां स्थित प्रथम आंगनबाड़ी केन्द्र पर दर्ज 33 में से 5 बच्चे मिले और दूसरे आंंगनबाड़ी केन्द्र में कार्यकर्ता संकुन सेन अनुपस्थित मिलीं।

एसडीएम नगर परिषद में स्थित अनुसूचित जाति आदिम जाति कल्याण विभाग के सीनियर कन्या छात्रावास पहुुंचे, जहां पर अधीक्षका रश्मि तोमर अनुपस्थित मिलीं। उपस्थिति रजिस्टर में 50 छात्राओं की संख्या दर्ज है पर, बुधवार को निरीक्षण के दौरान 28 छात्राएं ही मिली। इसके बाद एसडीएम शासकीय नवीन प्री मैट्रिक बालक छात्रावास पहुंचे जहां अधीक्षक आरएस राजपूत मिले पर उपस्थिति रजिस्टर में अनियमितताएं मिलीं। दर्ज संख्या 50 है और बुधवार को 38 नामों के सामने हाजिरी मिली लेकिन 14 छात्र ही मिले। जब एसडीएम ने पूछा कि हाजिरी लगाने के बाद वे छात्र कहां है तो अधीक्षक ने कहा पढऩे चले गए हैं।

कहां जाता है बजट:

एसडीएम ने शासकीय प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल देवरीकलां में निरीक्षण के दौरान भवन की मरम्मत नहीं होना साफ-सफाई नहीं होना और गंदगी पसरी होने पर नाराजगी व्यक्त की और स्कूल के प्रभारी से कहा कि स्कूल के रख रखाव के लिए आने वाला बजट कहां जाता है। जिस बारे में कुछ नहीं बोल सके। प्राथमिक में 92 में से 30 बच्चे मिले और माध्यमिक में 34 में से 6 बच्चे ही मिले।

इस संबंध में अनुपस्थित मिले अधीक्षकों को कारण बताओ नोटिस दिए जाएंगे और आंगनबाड़ी केन्द्र बच्चे नहीं पहुंच रहे वहां भी कार्यकर्ताओं को कारण बताओ नोटिस जारी किए जाएंगे

इकबाल मोहम्मद, एसडीएम भितरवार

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???