Patrika Hindi News

> > > > Sand mafia action

रेत माफिया पर कार्रवाई, डुबोईं  पनडुब्बियों

Updated: IST gwalior
रायपुर रेत घाट पर कार्रवाई करने पहुंचे एसडीएम व अन्य

ग्वालियर. डबरा में सिंध नदी के रायपुर रेत घाट पर बुधवार को प्रशासन ने रेत माफिया के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की। सुबह करीब 5 बजे एसडीएम अमनवीर सिंह के नेतृत्व में पहुंचे अमले ने अवैध रेत खनन में जुटे लोगों पर जैसे ही कार्रवाई शुरू करने का प्रयास किया वे अपनी 6 पनडुब्बियों को नदी में डूबोकर भाग गए। टीम ने मौके से दो पनडुबियों को नष्ट किया और दो पनडुब्बियों के पाइप और ड्रम को भी जब्त किया। नष्ट किए गए पनडुबियों के सामान को तहसील परिसर में रखवाया गया है। इधर, मौके से आठ में से 6 पनडुब्बियों को रेत माफियों द्वारा डुबोए जाने से फिर एक बार प्रशासन की कार्रवाई की सूचना लीक होने की बात सामने आती है। इस बात को प्रशासन भी स्वीकर करता है।

एसडीएम अमनवीरसिंह ने नेतृत्व में तहसीलदार शिवदयाल धाकड़, नायब तहसीलदार महेश कुशवाह एसएएफ दल और राजस्व अमले के साथ रायपुर रेत घाट पहुंचे। मौके पर आठ पनडुब्बियों का संचालन होता मिला लेकिन कार्रवाई से पूर्व रेत से जुड़े कारोबारियों ने नदी में 6 पनडुबियों को डुबों दिया। जिससे प्रशासन के हाथ दो पनडुब्बियां आ सकीं। जिसे नगर पालिका के चालक ने हिटैची मशीन से पनडुब्बी को तोड़ा गया और नष्टीकरण की कार्रवाई की। कार्रवाई के दौरान अन्य घाटों पर भी हड़कम्प मच गया। टीम में आरआई दिनेश व्यास, विजय शर्मा, अरविंद राणा पटवारी, सिद्धेश्वर भगत आदि राजस्व टीम शामिल है। 4 घंटे से अधिक समय तक कार्रवाई की गई। इधर, कार्रवाई के दौरान डबरा पुलिस का सहयोग नहीं लिया गया।

एनजीटी द्वारा डबरा क्षेत्र में लिधौरा और हथनोरा रेत घाट से ही रेत निकालने की परमीशन दी गई है हालांकि पनडुब्बियों के माध्यम से रेत का अवैध कारोबार जारी है। जिसे लेकर प्रशासन की ओर से समय -समय पर कार्रवाई की जाती है। बावजूद इसके अंकुश नहीं लग पा रहा है। 22 जून को बेलगढ़ा चांदपुर और रायपुर रेत घाट पर प्रशासन की ओर से कार्रवाई की गई थी। तीन पनडुबियों को नदी से बाहर निकला कर नष्ट किया था। जबकि, दो पनडुबियों को डुबो दिया गया था। 11 जून को भी प्रशासनिक अमले ने बेलगढ़ा घाट पर कार्रवाई की थी लेकिन हिटैची मशीन के मौके पर नहीं पहुंचने से पनडुबियों को नष्ट नहीं किया जा सका था।

आठ पनडुबियों का संचालन होता मिला

कार्रवाई के दौरान 6 पनडुब्बियों डुबो दी गई थी, दो को नदी से बाहर निकाल कर पूरी तरह से नष्ठ किया है। आगे भी कार्रवाई जारी रहेगी।पनडुब्बियों का कोई मालिक आता नहीं है क्लेम नहीं करने की दशा में बाद में राजसात की कार्रवाई की जाती है।

अमनवीरसिंह, एसडीएम डबरा।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???