Patrika Hindi News

Photo Icon हर रोज चले इतने कदम तो रहेगी आपकी सेहत स्वस्थ, जानिए इसके फायदे

Updated: IST morning walk
बदलती लाइफ स्टाइल में लोग पैदल चलना भी भूल से गए है। घर से निकलते ही गाड़ी में बैठकर ऑफिस पहुंचना। ऑफिस में सीट पर बैठकर ऑफिस वर्क करना और फिर शाम को गाड़ी में बैठकर घर पहुंचना।

ग्वालियर। बदलती लाइफ स्टाइल में लोग पैदल चलना भी भूल से गए है। घर से निकलते ही गाड़ी में बैठकर ऑफिस पहुंचना। ऑफिस में सीट पर बैठकर ऑफिस वर्क करना और फिर शाम को गाड़ी में बैठकर घर पहुंचना।

डिनर कर टीवी देखकर सो जाना। ऐसी दिनचर्या अधिकतर लोगों की बन गई है। यही कारण है कि इन दिनों लोगों में हार्ट प्राब्लम, डायबिटीज, ओबेसिटी, वेटगेन आदि प्राब्लम बढ़ती जा रही है और बीमारियों के मरीज भी बढ़ते जा रहे है।जबकि डॉक्टरों का कहना हैकि पैदल चलना स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है। रोज पैदल चलकर हम इन बीमारियों को दूर भगा सकते है। इसके लिए रोजाना हमें दस हजार कदम चलने होंगे।

MUST READ........The RAJMATA SCINDIA STORY....

छह से सात किमी घंटे रखे अपनी स्पीड
जब आप मॉर्निग व इवनिंग वॉक पर चले तो आपकी स्पीड 6 से 7 किमी प्रति घंटे होनी चाहिए। शुरुआत के दस मिनट में केवल शरीर वॉर्मअप होता है। एक व्यक्ति को 30 से 45 मिनट रोज पैदल चलना चाहिए। यदि आपके पास समय नहीं है तो हफ्ते में 150 मिनट जरूर चलें या हफ्ते में कम से कम 9 मील। पैदल चलना एक्सरसाइज का एक तरीका है। 18 साल से अधिक उम्र के लोग ऐसा कर सकते है।

इसलिए फायदेमंद है पैदल चलना
जब आप चलते है तो एनर्जी की रिक्वायरमेंट होती है। एनर्जी को प्रोड्यूज करने के लिए ग्लूकोज की जरुरत होती है। इसकी मात्रा हम होने पर बॉडी का फैट ग्लूकोज में कन्वर्ट होता है,जिसमें ओबेसिटी, हार्ट प्रॉब्लम दूर होती है।तेज चलने से खून की नसों में बहाव तेज होता है। जिससे फैट यूटिलाइज होता है। इससे ब्लड प्रेशर भी सामान्य रहता है।

घरेलू काम के अलावा भी वॉक की जरुरत
अधिकतर हाउस वाइफ सोचती है कि हम घर पर ही इतना काम कर लेते है कि पैदल चलने की जरुरत नहीं है,तो ऐसा कतई नहीं है। उन्हें भी दस हजार कदम रोज चलना है। इसी प्रकार शॉप या ऑफिस में काम करने वाले व्यक्ति को भी इतना ही चलने की आवश्यकता है।यह नियम हर एक प्रोफेशन के मेल एवं फीमेल पर लागू होता है।

मॉर्निग व इवनिंग वॉक के लिए नहीं समय तो ये करें
ऑफिस, शॉप से 300 मीटर पहले गाड़ी खड़ी करें और पैदल गंतव्य तक पहुंचे।
घर पर यदि बच्चे है तो उनके साथ गार्डन पर रोजाना जरुर खेले।
आसपास के काम के लिए गाड़ी का उपयोग न करें।
कुछ काम पेडिंग छोड़ दें। जिनको पैदल चलकर पूरे किए जा सके।
हफ्ते में एक दिन नो व्हीकल जोन घोषित करें।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???