Patrika Hindi News

> > > > who report on pollution,gwalior is the most polluted city

फिर बदनाम हुआ ग्वालियर,वायु प्रदूषण में दिल्ली से भी आगे निकला

Updated: IST pollution in city
वायु प्रदूषण के लिए दुनियाभर में दिल्ली सबसे अधिक कुख्यात शहर के रूप में प्रचारित हो चुका है, लेकिन अब इसमें बदलाव हुआ है। दरअसल ग्वालियर के वायु प्रदूषण के नए आंकड़ों ने दिल्ली को पीछे छोड़ दिया है।

ग्वालियर। वायु प्रदूषण के लिए दुनियाभर में दिल्ली सबसे अधिक कुख्यात शहर के रूप में प्रचारित हो चुका है, लेकिन अब इसमें बदलाव हुआ है। दरअसल मध्यप्रदेश के ग्वालियर और छत्तीसगढ़ की राजधानी रायपुर में वायु प्रदूषण के नए आंकड़ों ने दिल्ली को पीछे छोड़ दिया है।

यह आंकड़े विश्व स्वास्थ्य संगठन ने जारी किए हैं। संगठन ने दुनियाभर के सोलह सौ शहरों में वायु प्रदूषण के स्तर को जांचा है। इसमें भारत के 8 शहर शामिल हैं। इनमें ग्वालियर और रायपुर की हवा दिल्ली से भी खराब मिली है। इलाहाबाद, पटना, लुधियाना, कानपुर, लखनऊ व फिरोजाबाद उन शहरों में हैं, जहां प्रदूषण फैलाने वाले खतरनाक कणों की मौजूदगी सुरक्षित सीमा से काफी अधिक पाई गई है।
पहले भी हो चुका है बदनाम
इससे पहले भी विश्व स्वास्थ्य संगठन ने अपने एक अध्ययन में मध्यप्रदेश के ग्वालियर जिले को दुनिया को सबसे ज्यादा प्रदूषित शहरों की सूची में दूसरा स्थान दिया था। जिससे लगातार ग्वालियर नगर निगम सहित अन्य एजेंसियों द्वारा गलत बताया जाता रहा। इस पूरानी सूची अनुसार ग्वालियर में 176 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर पाटीज़्कल्स एयर पोल्यूशन है।पूरानी सूचीमें ईरान का जाबोल शहर दुनिया का सबसे ज्यादा प्रदूषित माना गया था, यहां पर प्रदूषण 214 माइक्रो ग्राम प्रति घन मीटर पाटीज़्कल्स थी, जबकि ग्वालियर को दूसरे नंबर सबसे प्रदूषित शहर बताया गया था।

इसलिए प्रदूषित है ग्वालियर
ग्वालियर इसलिए प्रदूषित हैं, क्योंकि यहां 15 साल से अधिक पुरानी गाडियां आज भी चल रही हैं। एयर पोल्यूशन के कारण हवा में नाइट्रोजन और काबज़्न मोनो ऑक्साइड गैसें भी ज्यादा मात्रा में मिल रही हैं, जिससे प्रदूषण का लेबल बढ़ा है। वहीं जानकारों के मुताबिक ग्वालियर में कचरा भी सही प्रकार से ठिकाने नहीं लगाया जाता। ग्वालियर में 250 टन कचरा प्रतिदिन निकलता है और इसमें से आधा भी ठिकाने नहीं लगता।

शहर के बीच हैं खदान
प्रदूषित होने का दूसरा सबसे कारण शहर के बीच में कई खदाने हैं। इन खदानों में दिन रात खनन का काम जारी है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???