Patrika Hindi News

> > > > wifes of jawans opens vrat of karva chauth after calling her husband

सेना के जवानों की पत्नियां फोन पर बात कर खोलेंगी व्रत

Updated: IST karva chauth 2016
सरहद की रक्षा में तैनात कई सैनिकों की सीमा पर तनाव को देखते हुए रद्द हुई छुट्टियां, पत्नियां करवाचौथ का व्रत रखकर चौथ माता से मांगेंगी लंबी आयु का आशीर्वाद।

ग्वालियर। सर्जीकल स्टाइक से उपजे तनाव का असर करवाचौथ पर भी पडऩे जा रहा है। क्योंकि आर्मी, बीएसएफ, सीआरपीएफ एवं अन्य पैरामिलिट्री फोर्स में पदस्थ अधिकांश जवानों की छुट्टियां रद्द कर दी गई हैं।

इस कारण से आर्मी व बीएसएफ में पदस्थ जिले के कई जवान भी इस बार करवा चौथ पर अपने घर नहीं आ पाएंगे। छुट्टियां रद्द हो जाने की वजह से जहां जवान देश की सेवा में रहकर अपना फर्ज निभाएंगे। वहीं पत्नियां करवाचौथ का व्रत रखकर चौथ माता से पतियों की लंबी आयु और सलामति का आशीर्वाद मांगकर अपना धर्म निभाएंगी।

इस करवाचौथ पर पतियों के दूर होने की पीड़ा तो पत्नियों को है। मगर देश और मात्रभूमि की सेवा में पति के रहने का गर्व भी है। श्योपुर के महाराणा प्रताप नगर निवासी ऋतु राजकुमार सिंह राठौर ने बताया कि उनके पति सीआरपीएफ में पदस्थ हैं।
जिनकी पोस्टिंग भोपाल में है, लेकिन सर्जीकल स्ट्राइक के मद्देनजर अभी ड्यूटी पूना में लगी है और भारत एवं पाकिस्तान के बीच तनाव के चलते अवकाश स्वीकृत नहीं हो सका है। लिहाजा पति करवाचौथ पर नहीं आ पा रहे हैं। लेकिन उनकी पत्नी वह हर साल की तरह करवा चौथ का व्रत रखेंगी। पूजा करने के बाद पति से फोन पर बात करेंगी और पति की फोटो देखते हुए अपना व्रत खोलेंगी।

कुछ ऐसी ही स्थिति गुलमोहर कॉलोनी(श्योपुर) निवासी उपमा देवी पत्नी लक्ष्मी चंद राजपूत की है। इनके पति की ड्यूटी असम रायफल्स में है। जिनकी ड्यूटी अभी असम में है।
इनके पति को भी करवाचौथ पर छुट्टी नहीं मिल सकी है। यह भी करवाचौथ पर व्रत रखेंगी। बताया गया है कि इसको लेकर उन्होंने तैयारी भी करके रखी हुई है। उपमा देवी भी अपना व्रत चांद निकलने के बाद पूजा करके पति से मोबाइल पर बात करते हुए खोलेंगी।

वहीं भिंड के ग्राम गढ़ूपुरा निवासी रामगोपाल यादव के सुपुत्र नीरज यादव वर्तमान में भारतीय सेना में पंजाब के जालंधर में बार्डर पर तैनात हैं इनकी शादी अप्रैल में हुई है। इनकी पत्नी पूनम यादव अपना करवाचौथ व्रत रखेंगी।
इस दिन पति के निकट न होने का मलाल तो रहेगा लेकिन गर्व की अनुभूति भी होगी कि बेशक इस महत्वपूर्ण दिन पति उनके पास नहीं है, पर वह देश की रक्षा के लिए महती जिम्मेदारी निभा रहा है। करवाचौथ व्रत के दिन परिवार की बड़ी महिलाओं के साथ पूजा अर्चना कर पति की दीर्घायु के लिए भगवान से प्रार्थना करेंगी। वे फोन पर पति से बात कर अपना व्रत तोड़ेगी।

इधर, 29 साल में पहली करवाचौथ पर होंगे साथ
भारतीय सेना में अरुणाचल प्रदेश में पदस्थ रणविजयसिंह अपनी 29 साल की सेवा में पहली बार करवाचौथ के दिन अपने घर पर होंगे। रौन(भिंड) क्षेत्र के काशीपुरा निवासी रणविजयसिंह कहते हैं कि सेना में भर्ती के बाद से अब तक कभी भी ऐसा अवसर नहीं आया जब करवाचौथ व्रत के दिन घर पर रहे हों।
यह पहला मौका है जब छुट्टी लेकर आए तब करवाचौथ व्रत पड़ गया। उनका कहना है कि हम चायना बार्डर की ओर पदस्थ हैं और पाकिस्तानी आतंकवादियों द्वारा सेना शिविर पर हमला किए जाने से पहले अवकाश लेकर आ गए थे। जब हम सब देशवासी सुरक्षित हैं तभी सभी त्योहार मनाना अच्छा लगता है।

फोटो देखकर खोलेंगी व्रत
मुरैना की संजय कॉलोनी निवासी दीपक सिकरवार का विवाह 28 अप्रैल 2016 को अदिति के साथ हुआ था। यह अदिति की पहला करवा चौथ है, लेकिन उन्हें यह पर्व पति की गैरमौजूदगी में ही मनाना पड़ेगा। भारतीय सेना में पदस्थ अदिति के पति दीपक इन दिनों जम्मू के पुंछ सेक्टर में तैनात हैं।
उनके बिना करवा चौथ का व्रत रखने जा रहीं अदिति कहती हैं कि देश की रक्षा का दायित्व बहुत बड़ा है। उनके पति इसे बेहतर ढंग से निभा पाएं, ईश्वर से यही कामना है। करवाचौथ पर वे साथ होते तो अच्छा होता। ड्यूटी पर हैं तो उनका फोटो रखकर परंपरा का निर्वहन कर लेंगे। बकौल अदिति उनके जैसी और भी कई बहनें हैं, जिनके पति करवा चौथ पर उनके साथ नहीं होंगे। सभी का त्याग एक-दूसरे के लिए प्रेरणादायी है।

सास और बहू की एक ही दास्तां
संजय कॉलोनी निवासी अदिति की तरह उनकी सास भी करवा चौथ का व्रत पति की गैरमौजूदगी में ही रखेंगी। क्योंकि उनके पति किशन सिंह सिकरवार भी भारतीय सेना में ही सूबेदार के पद पर कार्यरत हैं। किशन सिंह इन दिनों फिरोजपुर में तैनात हैं। अदिति की सास का कहना है कि शादी के बाद उनके सामने तो ऐसे कई अवसर आए, जब उन्हें पति के बिना ही करवा चौथ मनानी पड़ी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???