Patrika Hindi News

> > > > Years later came the joy, sorrow cloudy

सालों बाद आई खुशी, गम में बदली

Updated: IST gwalior news hindi, mp news hindi
अवाड़पुरा स्थित एक मकान में आज सुबह पानी भर रहे बच्चों पर मकान का छज्जा गिर पड़ा। जिसमें मौके पर ही दो बच्चियों की मौत हो गई। हादसे में एक ही परिवार के छह अन्य बच्चे मलवे में दबकर घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए जेएएच में भर्ती कराया गया है।

ग्वालियर. अवाड़पुरा स्थित एक मकान में आज सुबह पानी भर रहे बच्चों पर मकान का छज्जा गिर पड़ा। जिसमें मौके पर ही दो बच्चियों की मौत हो गई। हादसे में एक ही परिवार के छह अन्य बच्चे मलवे में दबकर घायल हो गए। जिन्हें इलाज के लिए जेएएच में भर्ती कराया गया है। यह हादसा अवाड़पुरा स्थित इंदिरा नगर गुलजार चौक में हुआ। जिस घर में हादसा हुआ वहां सालों बाद एक बच्चे का जन्म हुआ था। घर में खुशी का माहौल था और मेहमान आए हुए थे। जो जल्द ही गम में बदल गया।

यहां रहने वाले खलील कुरैशी और कालिक कुरैशी के परिवार के बच्चे पानी भर रहे थे। तभी यह हादसा हुआ। हादसे की खबर मिलते ही पुलिस फायर बिग्रेड और मदाखलत दस्ता मौके पर पहुंच गया। इसमें दो बच्चियों को गंभीर हालात में अस्पताल पहुंचाते ही मौत हो गई। वहीं छह अन्य बच्चों का इलाज किया जा रहा है। हादसे के बाद मकान के एक खतरनाक हिस्से को नगर निगम के मदाखलत अमले ने गिराया।

एेसा लगा बादल फट गया

इस मकान के सामने रहने वाले जावेद और मुनव्वकर ने बताया कि जिस समय यह घटना हुई उस समय आसपास के लोग अपने -अपने घरों में पानी भर रहे थे। छज्जा गिरते ही एेसा लगा मानो कोई बादल फट गया हो। आसपास के लोग कुछ समय पाते उससे पहले ही कई लोग घरों से बाहर आ गए और मलवे में फसे बच्चों को निकालने की कोशिशों में जुट गए। जब तक 108 और अन्य सुरक्षा बल यहां आया उससे पहले ही क्षेत्र के कई लोगों ने मलवे में दबे बच्चों को बाहर निकाला।

चीख पुकार सुनकर दौड़े लोग: हादसे की खबर क्षेत्र में आग की तरह फैल गई। अवाड़पुरा क्षेत्र में शहर की बहुत बड़ी आबादी मुस्लिम समुदाय की रहती है। हादसे की खबर लगते ही क्षेत्र के लोगों का यहां हुजूम यहां लग गया।

पानी की है क्षेत्र में समस्या: क्षेत्र में एक दिन छोड़कर ही पानी की सप्लाई लंबे समय से आ रही है। गुरुवार को भी पानी आना था। इसी को लेकर परिवार के बच्चे सुबह से ही पानी भरने के इंतजार में नल के आसपास बैठै हुए थे। तभी यह घटना हुई।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे