Patrika Hindi News

 सामूहिक हत्याकाण्ड में तीन की मौत, छावनी में तब्दील हुआ गांव

Updated: IST hamirpur
कोतवाली राठ के ग्राम अकौना में हुये सामूहिक हत्याकाण्ड के मुख्य आरोपी सहित चार अभियुक्त पुलिस ने गिरफ्तार कर लिये हैं।

हमीरपुर।कोतवाली राठ के ग्राम अकौना में हुये सामूहिक हत्याकाण्ड के मुख्य आरोपी सहित चार अभियुक्त पुलिस ने गिरफ्तार कर लिये हैं। अब मात्र एक अभियुक्त शेष बचा है पुलिस अधीक्षक हमीरपुर अनिल कुमार सिंह ने बताया कि मुखबिर की सूचना पर पुलिस ने दबिश देकर मुख्य आरोपी करन सिंह तथा महेन्द्र, जीतेन्द्र, व हरचरन को गिफ्तार कर लिया है। इनके पास से हत्या में प्रयुक्त राइफल व तमंचे आदि बरामद कर लिये हैं। गांव में पुलिस फोर्स लगा दी गयी है। साथ ही कहा कि शेष एक अभियुक्त को शीघ्र गिरफ्तार कर लिया जायेगा। पुलिस अधीक्षक अनिल कुमार सिंह ने कहा कि जो लोग मारे गये हैं वो किसी भी प्रकार से किसी पार्टी में शामिल नहीं थे जबकि यह लड़ाई वर्तमान प्रधान व पूर्व प्रधान के मध्य थी यह लोग निर्दोष मारे गये हैं।

मरने वालों में दो दलित परिवार के व एक पिछड़ी जाति का है। घायल खतरे से बाहर बताया जाता है। साथ ही कहा कि मारे गये परिवारीजनों की सुरक्षा के लिये पर्याप्त पुलिस व्यवस्था की गयी है और उन्होंने यह भी कहा कि लोगों के कहने के अनुसार मुख्य आरोपी करन सिंह है तथा कहा कि इस सामूहिक हत्याकाण्ड की जांच के लिये क्षेत्राधिकारी योगेश कुमार को नियुक्त किया गया है। साथ ही उन्होंने कहा कि क्षेत्रीय पुलिस पर किसी प्रकार की कार्रवाई करने की आवश्यकता नहीं है। यह बात पुलिस अधीक्षक ने पत्रकारों से वार्ता करते हुये कही तथा प्रेस वार्ता के दौरान अपर पुलिस अधीक्षक ब्रजेश कुमार मिश्रा, सीओ योगेश कुमार, प्रभार निरीक्षक एके सिंह मौजूद रहे। डीआईजी ने घटनास्थल पर जाकर की कार्रवाई घटना की जानकारी देते डीआईजी ज्ञानेश्‍वर तिवारी राठ अकौना सामूहिक हत्याकाण्ड पर घटना के तुरन्त बाद से आये चित्रकूट धाम मण्डल के पुलिस उपनिरीक्षक ज्ञानेश्‍वर तिवारी ने राठ पुलिस को अभियुक्तयों की गिरफ्तारी के लिये कड़े निर्देश दिये थे। जिनमें पुलिस ने तीन आरोपियों को आठ घण्टे के अन्दर गिरफ्तार कर लिया था तथा मुख्य आरोपी को 24 घण्टे के अन्दर गिरफ्तार किया गया। डीआईजी ने ग्राम अकौना जाकर मारे गये लेागों के परिवारीजनों को पूरी सहायता तथा सुरक्षा देने की बात कही तथा गांव में भारी पुलिस बल तैनात करके गांव वालों को भी सुरक्षा मुहैया कराने की बात कही।

तीनों मृतकों का किया गया अंतिम संस्कार

छावनी में तब्दील रहा ग्राम अकौना अकौना गांव में हुये सामूहिक हत्याकाण्ड के बाद 27नम्बर से ही गांव के लोग भारी दहशत में थे क्योंकि मुख्य आरोपी पुलिस की पकड़ से बाहर था इस कारण गांव के लोग घर से बाहर नही निकले और अन्ना जानवरों ने फसले भी चट कर दी। पुलिस द्वारा पोस्टमार्टम के बाद तीनों का अतिंम संस्कार भारी पुलिस बल के साथ एक ही स्थान पर कराया गया अतिमं संस्कार में पुलिस अधीक्षक हमीरपुर अनिल कुमार सिंह, अपर पुलिस अधीक्षक ब्रजेष कुमार मिश्रा, और पूर्व विधायक अनिल कुमार अहिरवार, राजेश कुमार उर्फ बब्लू, प्रताप सिंह लोधी व एसडीएम् राठ मुहम्मद रिजवान, सीओ योगेश कुमार, प्रभारी निरीक्षक एके सिंह व मृतकों के परिजन व गांव के लोग उपस्थित रहे।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???