Patrika Hindi News

भोलेनाथ का कमल रूप में शृंगार, सप्तधारा से अभिषेक

Updated: IST Bholenath
शिवालयों में पंचाक्षरी मंत्र और बम भोले के जयघोष गूंजे

हरदा। कृषि मंडी परिसर स्थित पंच पिपलेश्वर महादेव मंदिर में सावन के दूसरे सोमवार को शिवलिंग का कमल रुप में शृंगार किया गया। कमल के मध्य विराजित भगवान शिव का सप्तजलधार से अभिषेक होता दिखाया गया। वहीं गर्भगृह को सरोवर को रुप दिया गया। शिवभक्त जयकृष्ण चांडक ने बताया कि उन्होंने शिवलिंग का यह उनका 57वां शृंगार रहा। इसे तैयार करने में उन्हें 24 घंटे लगे। शृंगार में गणेश सोनी का सराहनीय सहयोग रहा।

शिव भक्तों ने अभिषेक पूजन कर भोलेनाथ का मनभावन शृंगार किया

सावन के दूसरे सोमवार को शिवालयों में भक्ति की बयार बही। शिवभक्तों ने जल व दूध से शिवलिंग का अभिषेक कर पूजन-अर्चन किया। शाम को शिवलिंग का मनभावन शृंगार किया गया। इस दौरान भजन कीर्तन का दौर भी चला। शहर के श्री गुप्तेश्वर महादेव मंदिर, शंकर मंदिर, ओंकारेश्वर महादेव मंदिर, नर्मदेश्वर महादेव मंदिर सहित अन्य शिवालयों में सैकड़ों भक्तों ने पहुंचकर शिव आराधना की। इस दौरान शिवालय पंचाक्षरी मंत्र और बम भोले के जयघोष से गूंज उठे। घरों में भी भोलेनाथ का अभिषेक किया गया। श्रृद्धालुओं ने सोमवार का व्रत रखकर सुखी जीवन की कामना की।

30 को निकलेगी जय भोले कांवड़ यात्रा

धर्म रक्षा समिति द्वारा बारहवें वर्ष में 30 जुलाई को जय भोले कांवड़ यात्रा निकाली जाएगी। समिति के सुभाष शर्मा ने बताया कि यात्रा रविवार सुबह 9 बजे सिद्धनाथ महादेव मंंदिर नेमावर से शुरू होगी। नर्मदा जल लेकर कांवडि़ए दोपहर 2 बजे हरदा पहुंचेंगे। शहर में भव्य शोभायात्रा निकाली जाएगी। कांकरिया में यात्रा का रात्रि विश्राम रहेगा। सोमवार सुबह 11 बजे कांवडि़ए चारूवा पहुंचकर यहां स्थित गुप्तेश्वर महादेव का नर्मदा जल से अभिषेक करेंगे। कांवड़ यात्रा की तैयारी शुरू हो गई है।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???