Patrika Hindi News

सोने व डिनर के बीच रखें 2 घंटे का अंतर, होगें ये फायदे 

Updated: IST dinner
रोजाना रात को तला-भुना या जंकफूड खाने की आदत आपका वजन बढ़ा सकती है।

विशेषज्ञ रात का खाना जल्दी खाने की सलाह देते हैं। लेकिन कभी व्यस्त दिनचर्या तो कभी लापरवाही की वजह से हम इसकी अनदेखी कर जाते हैं। आइए जानते हैं उन समस्याओं के बारे में जो रात का खाना देर से खाने से होती हैं।

बीमारियां : डिनर देर से करने और सुबह देरी से जागने पर हमारी बॉडी क्लॉक गड़बड़ा जाती है जिससे हमें कब्ज, एसिडिटी व अनिद्रा जैसी समस्याएं होने लगती हैं। रात के समय हमारी शारीरिक गतिविधियां कम होती हंै, ऐसे में हम जब डिनर में तला-भुना या गरिष्ठ भोजन करते हैं तो यह ठीक से पच नहीं पाता। जब लगातार यही प्रक्रिया चलती रहती है तो व्यक्ति मोटापे से ग्रसित हो जाता है।

ये करें : रात के खाने और सोने के बीच दो घंटे का अंतराल रखें। डिनर में हल्का भोजन करें जैसे दलिया, खिचड़ी, सूप, सलाद आदि। डिनर के बाद 10-15 मिनट की वॉक की जा सकती है। रात के खाने के बाद चाय या कॉफी पीने की आदत से बचें। इनसे एसिडिटी और कब्ज हो सकती है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???