Patrika Hindi News

> > > > Action Plan of the Municipality

नगरपालिका के बड़े फैसले, कुछ खट्टे- कुछ मीठे

Updated: IST napa meeting
स्वच्छ भारत मिशन के तहत देश के 500 शहरों के बीच होगा स्वच्छता सर्वेक्षण-2017, नगरपालिका अध्यक्ष और सीएमओ ने अगले तीन महीने के लिए बनाई कार्ययोजना

होशंगाबाद। स्वच्छ भारत मिशन के तहत 500 शहरों के बीच होने वाले स्वच्छता सर्वेक्षण-2017 में नंबर वन आने के लिए नगरपालिका प्रशासन ने कमर कस ली है। इस दौड़ में होशंगाबाद नगरपालिका भी शामिल है। गुरुवार को नपा अध्यक्ष अखिलेश खंडेलवाल और सीएमओ पवनकुमार सिंह ने नपा सभाकक्ष में प्रेसवार्ता के दौरान इस सर्वेक्षण में अव्वल आने के लिए किए जा रहे प्रयासों और आगामी कार्ययोजना की जानकारी दी। सीएमआे ने कहा, अव्वल आने के लिए शहर के सभी नागरिकों की सहभागिता जरूरी है। अगले तीन माह तक इस दिशा में कई काम होंगे। कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए हैं। उन्होंने कर्मचारियों से भी कहा कि उनके पास समस्या लेकर आने वाले और फोन से समस्या बताने वाले नागरिकों की बात ध्यान से सुनें और उनकी समस्या दूर करें। प्रेसवार्ता के दौरान स्वास्थ्य समिति के सभापति एवं पार्षद दीपू पालीवाल समेत अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी मौजूद थे।

यह है नगरपालिका की कार्ययोजना

- स्ट्रीट लाइट, पानी और साफ-सफाई के लिए रहवासी क्षेत्र में रहने वालों को अब सलाना टैक्स के रूप में 60 से 120 रुपए अतिरिक्त देना होगा। अभी तक सलाना टैक्स 150 रुपए है।

- डोर टू डोर कचरा एकत्र करने के लिए 11 नए वाहन खरीदे जाएंगे। एक जेसीबी भी खरीदी जा रही है। इनके टेंडर हो गए हैं। जरूरत पडऩे पर किराए पर भी वाहन लिए जाएंगे। सभी वाहनों की मॉनिटरिंग के लिए इनमें जीपीएस सिस्टम लगेंगे।

- प्रत्येक वार्ड में सफाई कर्मियों की हाजिरी अब बायोमीट्रिक मशीन से होगी। इससे सफाई कर्मियों की मनमानी पर रोक लगेगी।

- ठोस अपशिष्ट के निपटारे के लिए प्रत्येक वार्ड में कार्यशाला आयोजित कर लोगों को जागरूक किया जाएगा।

- जिनके घरों में शौचालय नहीं हैं, उन परिवारों को विवाह प्रमाण-पत्र जारी नहीं होंगे। अन्य योजनाओं का भी लाभ नहीं मिलेगा। सभी वार्डों को खुले में शौचमुक्त बनाने का अभियान भी चलेेगा।

- सफाई के मामले में अंतर वार्ड प्रतियोगिता होगी। प्रथम आने वाले वार्ड में 20 लाख के अतिरिक्त निर्माण कार्य कराए जाएंगे। दो अक्टूबर को परिणाम घोषित करेगी नगरपालिका।

- शहर के सभी व्यावसायिक क्षेत्रों में प्रतिदिन दो बार और रहवासी क्षेत्र में कम से कम एक बार सपाई जरूर होगी। व्यावसायिक क्षेत्रों में जन भागीदार से बड़े डस्टबीन रखे जाएंगे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

अधिक जानकारी के लिए यहाँ क्लिक करे