Patrika Hindi News

गोदामों से दलहन एसडीएम की निगरानी में निकलेगी

Updated: IST p
समर्थन मूल्य पर मूंग,तुअर और उड़द की खरीदी मेंपारदर्शिता बरतने एसडीएम ने समस्त गोडाउन संचालकों को नोटिस जारी कर दलहन का रिकॉर्ड दिनांक सहित तलब किया है। समर्थन मूल्य खरीदी के दौरान गोडाउन से संबंधित किसान व्यापारी को दलहन सौंपे जाने की जानकारी अनिवार्य रुप से देना होगी बिना अनुमति दलहन सौंपे जाने पर संबंधित के खिलाफ कार्रवाई होगी। प्रशासन के इस शिकंजे से अब नंबर दो की स्टोर की हुई दलहन सरकारी खरीदी में खपाने की साजिश पर बहुत हद तक रोक लगेगी।

पिपरिया

समर्थन मूल्य पर दलहन खरीदी के बीच एसडीएम ने समस्त गोदाम संचालकों को नोटिस जारी कर भांडारित दलहन का रिकॉर्ड तलब किया है। मूंग की सरकारी खरीदी के बीच पुरानी भंडारित जिंस का अनियमित तरीके से विक्रय न हो यह पारदर्शिता रखने एसडीएम ने यह कदम उठाया है।

गोदाम में रखी दलहन किस किसान,संस्था,व्यापारी की है,भंडारित मात्रा और दिनांक क्या है यह जानकारी गोदाम संचालक को एसडीएम कार्यालय को उपलब्ध कराना होगा। एसडीएम मदन सिंह रघुवंशी ने बताया कि नोटिस देकर गोदाम संचालकों को निर्देशित किया गया है कि गोदाम संचालक दलहन का भुगतान करने के पूर्व समस्त दस्तावेजों सहित आवेदन कार्यालय को प्रस्तुत करे उसके बाद ही जमाकर्ता को दलहन सौंपे। इसमें सर्तकता और पारदर्शिता रखे अनियमितता और गलत भुगतान का संपूर्ण दायित्व गोदाम संचालक पर रहेगा। अपुष्ट सूत्रों की माने तो गोदामों में रखी पुरानी दलहन और गेहूं को नजर बचाकर समर्थन मूल्य पर बेचा जाता है जिससे वास्तविक किसान को उसकी उपज बेचने में परेशानी होती है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???