Patrika Hindi News

पार्षद के कहने पर 70 लोगों ने इस काम के लिए दे दी अपनी कीमती जमीन

Updated: IST Mayor with councilor husband
किसी ने नहीं मांगा मुआवजा, गुरुद्वारा वार्ड के लोगों ने सहमति से दी सड़क चौड़ीकरण के लिए जमीन, शहर की अन्य संकरी गलियों के लिए पेश की मिसाल, पार्षद की सार्थक पहल का नतीजा

अंबिकापुर. जहां लोग एक इंच जमीन के लिए एक दूसरे की जान ले लेने पर उतारू हो जाते हैं, वहीं गुरूद्वारा वार्ड के लगभग 70 लोगों ने अपनी जमीन सड़क चौड़ीकरण के लिए बिना मुआवजा के निगम को दे दी। 9 फीट की संकरी सड़क वार्ड पार्षद की पहल पर अब 35 फीट की होने लगी है।

महिला पार्षद की पहल पर लोगों ने सहमति से अपनी कीमती जमीन दी। लोगों की इस पहल की महापौर ने भी सराहना करते हुए सड़क निर्माण के लिए महापौर निधि से 5 लाख रुपए व वार्ड के पार्षद ने अपनी निधि से 4 लाख रुपए दिए हैं।

कुछ माह पूर्व तक गुरुद्वारा वार्ड के सड़कों की पहचान संकरी गलियों के रूप में होती थी। इन मार्गों से लोग अपनी वाहन ले जाने से कतराते थे। अब वही संकरी गलियां वार्ड की पार्षद कौशर रंगरेज के प्रयासों से चौड़ी सड़क के रूप में दिखने लगी हंै। बिना मुआवजा के कोई भी यहां सड़क चौड़ीकरण के लिए अपनी जमीन देने को तैयार नहीं था।

लेकिन कई बार की बैठक के बाद लोगों ने बिना मुआवजा के अपनी जमीन सड़क चौड़ीकरण के लिए दे दी। इसके साथ ही पार्षद द्वारा सड़क चौड़ीकरण का कार्य भी प्रारंभ कर दिया गया है। सहमति पर गुरुद्वारा वार्ड के दो सड़कों के चौड़ीकरण का कार्य किया जा रहा है।

2 डिसमिल से भी अधिक जमीन दी

जहां कई बिल्डरों द्वारा 2 डिसमिल जमीन पर पूरा मकान तैयार कर लाखों रुपए में बेच दिया जा रहा है। वहीं सड़क चौड़ीकरण के नाम पर कुछ लोगों द्वारा 2 डिसमिल से अधिक जमीन निगम को प्रदान कर दी गई है। वार्ड के एक व्यक्तिने 800 वर्ग फीट जमीन चौड़ीकरण के नाम पर दे दी।

बिना किसी मद के ही कर चुके हैं हजारों खर्च

पार्षद सड़क चौड़ीकरण के लिए बिना किसी निधि के अपने पास से अब तक लोगों को समझाइश देने व आपसी सहमति बनाने के लिए लगभग 70 हजार रुपए से अधिक अपने पास से खर्च कर चुके हैं। पार्षद की सार्थक पहल से लगभग 1 किमी की सड़क चौड़ीकरण का कार्य काफी तेज गति से चल रहा है।

महापौर ने किया वार्ड का निरीक्षण

महापौर डॉ. अजय तिर्की ने लोगों की सहमति से सड़क चौड़ीकरण का चल रहे कार्य का निरीक्षण शनिवार को किया। उन्होंने लोगों की सहमति को देखते हुए सड़क निर्माण हेतु महापौर निधि से 5 लाख रुपए दिए जाने की घोषणा की। इसके साथ ही वार्ड की पार्षद कौशर रंगरेज ने पार्षद निधि से 4 लाख रुपए दिए जाने की घोषणा की। इसके साथ ही महापौर ने प्रस्ताव तैयार कर सड़क निर्माण हेतु शासन को भी भेजने की बात कही।

शासन से नहीं ली मदद

महामाया मार्ग चौड़ीकरण के प्रस्ताव पर राजनीति करने के साथ चंद लोगों द्वारा विरोध किए जाने पर इस मार्ग के चौड़ीकरण का कार्य पूरी तरह से दो वर्ष से ठंडे बस्ते में चले गया है। वहीं महामाया मार्ग के बगल में स्थित गुरुद्वारा वार्ड के लोगों ने बिना शासन के मदद के ही अपनी तकदीर बदलने का निर्णय लिया। संकरी सड़कों की वजह से होने वाली दिक्कतों को ध्यान में रखते हुए वार्ड क्रमांक-26 के लगभग 70 लोगों ने खुद ही आगे आकर सड़क चौड़ीकरण हेतु अपनी जमीन प्रदान कर दी।

चौड़ीकरण हेतु जमीन देना अच्छी पहल

वार्ड के लोगो ंने खुद ही बिना किसी मुआवजा के सड़क चौड़ीकरण हेतु अपनी जमीन दी है। यह एक अच्छी पहल है और शहर के लिए लोगों ने आदर्श स्थापित किया है। जो आगे निगम के काफी काम आएगा।

डॉ. अजय तिर्की, महापौर नगर निगम

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???