Patrika Hindi News

विवादः BJP मंत्री का बयान, नोटों से भी हटाए जाएंगे गांधी

Updated: IST anil vij
विज ने कहा कि जिस दिन से नोट पर महात्मा गांधी की फोटो चिपकी है उस दिन से नोट की वैल्यू कम हो गई है।

अंबाला।हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज एक बार फिर विवादित बयान देकर सुर्खियों में आ गए हैं। खादी ग्रामोद्योग द्वारा गांधी की जगह मोदी की तस्वीर पर बोलते हुए उन्होंने कहा कि जिस दिन से नोट पर महात्मा गांधी की फोटो चिपकी है उस दिन से नोट की वैल्यू कम हो गई है। इस बीच बयान पर विवाद बढ़ने के बाद विज बयान से पलट गए और उसे अपनी निजी राय करार दिया। उधर, महात्मा गांधी के पोते तुषार गांधी ने कहा, भ्रष्ट राजनीति के दौर में अच्छा ही है कि बापू की फोटो, करंसी से भी हटा दी जाय।

गांधी को लेकर अनिल विज ने दिया था ये बयान

अनिल विज ने अंबाला में संवाददाताओं से बातचीत में कहा, "गांधीजी ने कोई खादी का ट्रेडमार्क तो करा नहीं रखा है। पहले भी कई बार उनकी तस्वीर नहीं लगी है।" उन्होंने कहा कि मोदी की तस्वीर लगने के बाद से खादी की बिक्री में 14 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। ऐसे में यह फैसला अच्छा है।

क्या है मामला?

गौरतलब है कि खादी ग्रामोद्योग के वार्षिक कैलेंडर और डायरी पर इस साल महात्मा गांधी की बजाय चरखे के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की फोटो छपी है। विपक्ष इसे मुद्दा बना रहा है और खुद बीजेपी सफाई दे रही है कि गांधी को कोई रिप्लेस नहीं कर सकता। लेकिन अब हरियाणा में बीजेपी के वरिष्ठ नेता और खट्टर सरकार में मंत्री अनिल विज के इस विवादित बयान के बाद यह मुद्दा फिर गरमा गया है।

कांग्रेस ने की बयान की निंदा

हरियाणा सरकार के पूर्व मंत्री व कांग्रेस के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला ने विज के इस बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि इस तरह का आपत्तिजनक और अतर्कसंगत बयानों का उम्मीद बीजेपी के नेताओं और मिनिस्टर से ही कर सकते हैं।

बीजेपी नेता ने की विज के बयान की निंदा

उधर बीजेपी नेताओं ने एक सुर में इसे विज का व्यक्तिगत बताते हुए इसकी निंदा की है। हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने कहा कि यह विज का व्यक्तिगत बयान है। इस बयान से बीजेपी का कोई सरोकार नहीं है। बीजेपी नेता श्रीकांत शर्मा ने भी इस बयान की निंदा करते हुए कहा कि महात्मा गांधी हमारे आदर्श हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???