Patrika Hindi News

फार्मासिस्ट भर्ती में अनियमितता का लगा आरोप

Updated: IST Charged with irregularities in pharmacist recruitm
स्थानीयों की जगह रायपुर, रायगढ़ और कोरबा जिले के उम्मीदवारों का किया चयन, अनियमितता के उद्देश्य से ही 6 महीने बाद हुई भर्ती

जशपुरनगर. जशपुर जिले में स्वास्थ्य विभाग की भर्ती प्रक्रिया हमेशा सवालों के घेरे में रही। पूर्व में 2013 में हुई फार्मासिस्ट गे्रड-2 की भर्ती में अनियमितता का मामला अभी पूरी तरह से हल भी नहीं हुआ है कि वर्तमान में व्यापम की परीक्षा के जरिए चयन किए जा रहे स्थानीय उम्मीदवारों की भर्ती में अनियमिता का आरोप लगना शुरू हो गया है।

पूर्व के मामले में चार उम्मीदवारों के निवास में गड़बड़ी पाए जाने की वजह से उन्हें गिरफ्तार कर जेल भेजा गया था। और भर्ती में चयन समिति पर अनियमितता के गंभीर आरोप लगे हैं। उनपर भी एफआईआर दर्ज करने की तैयारी चल रही है। वहीं एक बार फिर से फार्मासिस्ट भर्ती में पुरानी गलती को दोहराने का मामला सामने आया है। दरअसल राज्य शासन के 2015 की अधिसूचना के मुताबिक बस्तर और सरगुजा संभाग की भर्तियों में संभाग के स्थानीय जिले के निवासियों को प्राथमिकता देने की अनिवार्यता तय की गई है। वहीं जिले में पात्र उम्मीदवार होने के बावजूद दूसरे संभाग और जिले के उम्मीदवारों को नियुक्त करने की कार्रवाई की जा रही है। जशपुर जिले के स्वास्थ्य एवं चिकित्सा सेवाएं विभाग की ओर से हाल ही में चयन सूची जारी की गई है, जिसमे रायपुर, रायगढ़, कोरबा और सरगुजा जिले के उम्मीदवारों का चयन किया गया है। इस मामले की जांच कराने कलक्टर डॉ. प्रियंका शुक्ला से भी शिकायत की गई है। हालांकि शिकायत किए 15 दिन बीत जाने के बाद भी कोई कार्रवाई सामने नहीं आई है।

फार्मासिस्ट पंजीयन पत्र से मामला उजागर : दूसरे जिले के आवेदकों का चयन कर दिए जाने का मामला स्टेट फार्मेसी काउंसिल के वेबसाइट में दर्ज जानकारी के जरिए ही उनके निवास प्रमाण पत्र में सवालिया निशान लग गया है। कलक्टर डॉ. शुक्ला से जांच की मांग के लिए दिए गए पत्र में फार्मासिस्ट के आवेदकों ने आरोप लगाते हुए कहा है कि फार्मासिस्ट के पद पर भर्ती के लिए स्टेट फार्मेसी काउंसिल में पंजीयन कराना अनिवार्य होता है। वहीं पंजीयन के लिए शैक्षणिक योग्याता प्रमाण पत्रों के साथ ही निवास प्रमाण पत्र भी दिया जाता है, जिसके आधार पर संबंधित जिले का नाम प्रमाण पत्र पर अंकित करते हुए ही उन्हें फार्मेसी काउंसिल पंजीयन सर्टिफिकेट जारी किया जाता है। फार्मेसी काउंसिल के वेबसाइट में चयनीत अभ्यर्थियों का जिला रायपुर, रायगढ़ और कोरबा दर्शाया गया है। यानि जशपुर जिले का स्थानीय निवासी होने का दावा करते हुए जो 6 संदेही उम्मीदवारों ने जशपुर का निवास प्रमाण पत्र देकर नौकरी में पात्र होने की दावेदारी की है। उन्होंने फार्मेसी पंजीयन कराने के दौरान रायपुर, रायगढ़ और कोरबा जिले का निवास प्रमाण पत्र संलग्न किया है। जोकि फार्मेसी काउंसिल में दर्ज जानकारी से स्पष्ट हो रहा है।

पहले की तरह गुमराह करने की कोशिश : दरअसल पूर्व में फार्मासिस्ट के पद भर्ती प्रक्रिया के दौरान रायपुर, जांजगीर-चांपा और रायगढ़ जिले के ही आवेदकों ने जशपुर का निवास प्रमाण पत्र देकर चयन समिति को गुमराह किया था। इस मामले में कांसाबेल में पदस्थ फार्मासिस्ट के पद पर चंद्र कुमार ने परत दर परत खुलासा करते हुए दूसरे जिले के आवेदकों का निवास प्रमाण पत्र भी प्रस्तुत कर दिया था। इस मामले में हाई कोर्ट का कहना है कि आवेदकों ने गुमराह किया तो चयन समिति क्या कर रही थी। इसलिए चयन समिति पर कार्रवाई होगी। एकबार फिर से उसी प्रक्रिया को दोहराने की कोशिश की जा रही है।

इन उम्मीदवारों की भर्ती पर उठ रहे सवाल : छत्तीसगढ़ फार्मेसी काउंसिल के वेबसाइट के मुताबिक चयनीत उम्मीदवार जिन्होंने जशपुर का स्थानीय निवासी होने का दावा किया है, उनमें से वेबसाइट में ममता तिर्की पिता जुफेरियुस तिर्की पंजीयन क्रमांक-13825 को रायपुर का निवासी,आशीष तिर्की पिता नेस्तोर तिर्की पंजीयन क्रमांक-11242 को रायगढ़ का निवासी, अंजुम तिर्की पिता हेरमन तिर्की पंजीयन क्रमांक-8735 को कोरबा का निवासी, अजित कुमार निराला पिता बेधन राम निराला पंजीयन क्रमांक-9525 को सरगुजा निवासी और अमिता कुजूर पिता लॉरेंस कुजूर पंजीयन क्रमांक-10051 को रायगढ़ जिले का निवासी बताया गया है। उनका फार्मेसी पंजीयन उनके मूल निवासी जिले के आधार पर ही किया गया है। फार्मेसी पंजीयन के बाद जशपुर का निवास संलग्न कर नौकरी की पात्रता रखना कई सवालों को जन्म देता है। एक बार फिर से अनियमितता की बू आ रही है।

गलती के संबंध में पूरी चयन समिति जवाब देगी : स्थानीय उम्मीदवारों को ही जांच-परख कर चयनीत किया गया है। किसी प्रकार की गलती के संबंध में पूरी चयन समिति जवाब देगी। मैं अकेले जवाब नहीं दे सकता। रंजीत टोप्पो, सीएमएचओ जशपुर

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???