Patrika Hindi News

नानी बाहर गई तो भाइयों ने खोल लिया हुक्का बार

Updated: IST illegal hukkah bar in indore
शहर में हुक्का बार पर जिला प्रशासन के प्रतिबंध के बावजूद युवक ने नानी के घर को हुक्का बार में तब्दील कर दिया।

इंदौर. शहर में हुक्का बार पर जिला प्रशासन के प्रतिबंध के बावजूद युवक ने नानी के घर को हुक्का बार में तब्दील कर दिया। हुक्का बार के लिए उसने वाट्सएप ग्रुप पर हुक्के के शौकीन युवकों को जोड़ा। हुक्का, फ्लेवर जुटाए और प्रति व्यक्ति 2-3 हजार रुपए की वसूली करने लगा।

जूनी इंदौर पुलिस ने शुक्रवार को पलसीकर कॉलोनी स्थित घर में दबिश दी तो 9 युवक हुक्का गुडग़ुड़ाते धराए। पुलिस को देख युवकों के होश फाख्ता हो गए। पहले एक-एक कर सभी ने माफी मांगी। जब बात नहीं बनी तो दबाव बनाने का प्रयास किया गया। आखिरकार पुलिस ने सभी को गिरफ्तार कर लिया। उन पर धारा-144 के उल्लंघन पर धारा-188 के तहत कार्रवाई की। पुलिस ने मौके से 2 हुक्का, 3 फ्लेवर, बियर की 22 कैन भी बरामद की।

illegal hukkah bar in indore

सुबह 4 बजे पुलिस गश्त पर थी। इसी बीच आदर्श नगर पलसीकर के मकान नंबर 9बी के नीचे बड़ी संख्या में खड़ी गाडिय़ां देखकर पुलिस को शंका हुई। पुलिसकर्मी की सूचना पर जूनी इंदौर टीआई पवन सिंघल, एसआई महेश दबे, एएसआई रमेश सिंह कुशवाह, प्रधान आरक्षक भरत कुमार के साथ 9 पुलिसकर्मियों की टीम पलसीकर पहुंची।

विनय नगर निवासी मनोज पिता अशोक राखिजा (23) ने दरवाजा खोला। पुलिस देख उसके होश उड़ गए। उसने दरवाजा बंद करना चाहा, लेकिन पुलिसकर्मी घर में पहुंचे तो वहां दो हुक्के लगे थे, जिन्हें 9 युवक बारी-बारी से गुडग़ुड़ा रहे थे। फ्लेवर के लिए बाकायदा 3 पुडि़या रखी थीं। अंदर पहुंचते ही मनोज के भाई निखिल राखिजा (18) ने बहानेबाजी की।

hookah bar

ये गुडग़ुड़ा रहे थे

गौरव उर्फ चिराग पिता मुकेश वाधवानी (19), अभिशय पिता गुलाबचंद वर्मा (23) निवासी मोती तबेला, शंकर पिता पुरुषोत्तम परियानी (21) निवासी बैराठी कॉलोनी, करण पिता श्रीचंद राखिजा (18) निवासी वीर सावरकर नगर, भरत उर्फ बिट्टू पिता जगदीश अंदानी (18) निवासी श्रीधाम कॉलोनी खंडवा रोड, मधुर पिता विजय चावला (18) माणिकबाग और राहुल पिता हरीश तेजवानी वीर सावरकर हुक्का गुडग़ुड़ाने के साथ मोबाइल पर अश्लील तस्वीरें देख रहे थे।

दबाव भी बनाया

पहले युवकों ने पुलिस के समक्ष गुहार लगाई। माता-पिता को जैसे ही पुलिस ने खबर दी, माता-पिता ने पहचान वालों को फोन लगाया। कार्रवाई न करने की गुहार लगाई। कई भाजपा नेताओं ने भी टीआई को फोन पर छोडऩे की बात कही, लेकिन पुलिस ने सभी नौ युवकों को गिरफ्तार कर मजिस्ट्रेट के सामने पेश कर दिया।

15 दिन से चल रहा था

टीआई सिंघल ने बताया, मनोज राखिजा विनय नगर में रहता है। उसकी नानी का मकान आदर्श नगर पलसीकर में है। उसकी नानी कुछ दिनों के लिए शहर से बाहर गई थी। मकान खाली था, इसी मकान के एक कमरे में मनोज ने अपने भाई जतिन के साथ मिलकर अवैध हुक्का बार संचालित कर लिया।

उसने अपने दोस्तों का वाट्सएप ग्रुप बना रखा था। जब भी पार्टी करनी होती थी तो वह वाट्सएप पर ही निमंत्रण देता था और जो शामिल होते थे उनसे 2-3 हजार रुपए वसूलता था। हुक्के के फ्लेवर उसके दोस्त ही लेकर आते थे। यह काम वह पिछले 15 दिन से कर रहा था। पुलिस वाट्सएप ग्रुप में शामिल युवकों की जानकारी भी खंगाल रही है।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???