Patrika Hindi News

सेंसर बोर्ड ने कहा फिल्म पब्लिसिटी के लिए इंदू सरकार में खुद विवाद पैदा कर रहे मधुर भंडारकर

Updated: IST
सेंसर बोर्ड मेंबर राजेश के. पटेल ने कहा मधुर मेरे अच्छे दोस्त है लेकिन उनका इतिहास देख लीजिए वे हमेशा ही अपनी फिल्मों को लेकर विवादित रहे है।

सुमित एस. पांडेय@ इंदौर
'मधुर भंडारकर अपनी फिल्म 'इंदु सरकार' को बेचने के लिए पब्लिसिटी स्टंट कर रहे हैं। यूं तो मधुर मेरे अच्छे दोस्त हैं, लेकिन उनकी फिल्मों का इतिहास उठाकर देख लीजिए, खुद पता चल जाएगा कि वे कितना विवादित रहे हैं। उनकी आने वाली फिल्म में सेंसर बोर्ड ने गैरजरूरी मानते हुए 18 सीन काटे हैं। यह हमारी जिम्मेदारी है कि समाज में अच्छा मैसेज जाना चाहिए।

rajesh patel

'पत्रिका से विशेष बातचीत में यह बात सेंसर बोर्ड के सदस्य व फिल्म प्रोड्यूसर राजेश के. पटेल ने कही। सोमवार को इंदौर आए पटेल ने कहा कि सेंसर बोर्ड की जिम्मेदारी है कि वह बारिकी से देखे कि समाज में फिल्मों के माध्यम से अच्छा संदेश जा रहा है या बुरा। हम फिल्मकारों को सच्चाई दिखाने से नहीं रोकते, बस सच्चाई अश्लीलता में नहीं बदलनी चाहिए। मैं स्वयं फिल्म प्रोड्यूसर भी हूं। मैं फिल्म प्रोड्यूसर, डायरेक्टर और सेंसर बोर्ड के बीच सेतु का काम करता हूं।

indu sarkar

गौरतलब है कि मधुर भंडारकर की आने वाली फिल्म इंदू सरकार लगातार विवादों का सामना कर रही है। 1975 में लगी इमरजेंसी की पृष्टभूमि पर बनी इस फिल्म का कई कांग्रेसी नेता विवाद कर चुके है। कहा जा रहा है कि ये फिल्म कांग्रेस की दिग्गज नेता और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी का गलत रूप लोगों के सामने पेश कर रही है। इन्हीं विवादों के बीच जब मूवी सेंसर बोर्ड के पास पहुंची तो बोर्ड मेंबर्स ने भी इस पर कैंची चलाने में कोई कोताही नहीं बरती और फिल्म के 18 सीन गैरजरूरी मानते हुए काट दिए।

विवाद तो होते रहेंगे
सेंसर बोर्ड किसी को नीचा दिखाने का प्रयास नहीं करता। बस किसी बात को मुद्दा नहीं बनाना चाहिए। पहलाज निहलानी के सेंसर बोर्ड के अध्यक्ष बनने के बाद से सेंसर बोर्ड ज्यादा विवादों में रहा है। इस सवाल पर पटेल कहते हैं, विवाद पहले भी हुए हैं और होते रहेंगे। बोर्ड फिल्मकारों से चाहता है कि वे जो भी फिल्म बनाए, उससे समाज में गलत संदेश नहीं जाना चाहिए। इंदु सरकार पर चलाई गई कैंची के खिलाफ मधुर भंडारकर कोर्ट जाने के लिए स्वतंत्र हैं।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???