Patrika Hindi News

यूजी-पीजी में एडमिशन के लिए काउंसलिंग अगले हफ्ते

Updated: IST college admission
सरकारी कॉलेजों के माध्यम से 22 मई तक कराना है कोर्स वेरिफिकेशन

इंदौर. प्रदेश के कॉलेजों में संचालित परंपरागत कोर्सेस में एडमिशन की प्रक्रिया शासन स्तर पर शुरू हो चुकी है। कॉलेजों को ऑनलाइन काउंसलिंग के लिए सरकारी कॉलेजों के माध्यम से कोर्सेस का वेरिफिकेशन कराना है। इसके बाद ही कोर्स और सीटों की जानकारी पोर्टल पर अपलोड होगी। इस बार भी अल्पसंख्यक कॉलेजों को काउंसलिंग प्रक्रिया से छूट मिलने की उम्मीद है।
यूजी में बीए, बीकॉम, बीएससी और पीजी में एमए, एमकॉम, एमएससी सहित अन्य परंपरागत कोर्सेस में एडमिशन राज्य स्तर पर ऑनलाइन काउंसलिंग के जरिए होना है। पहली काउंसलिंग के रजिस्ट्रेशन अगले सप्ताह से शुरू होने की उम्मीद है। बीते वर्षों में काउंसलिंग शुरू होने तक कई कॉलेजों के नाम और कोर्स पोर्टल पर शामिल नहीं हो पाए थे। इस बार ऐसे हालात न बने इसलिए पहले ही उच्च शिक्षा विभाग पूरी तैयारी कर रहा है। कॉलेजों और कोर्स के नाम सरकारी कॉलेजों के माध्यम से अपडेट कराने के लिए विभाग ने 22 मई तक का समय दिया है। विभाग ने स्पष्ट किया है कि पोर्टल पर वेरिफाई सीटों के लिए ही काउंसलिंग कराई जाएगी।
लॉ कोर्स में जांचेंगे बीसीआई की मान्यता
लॉ कोर्सेस में एडमिशन को लेकर खास सतर्कता बरती जाएगी। बीते सत्र में शहर के गवर्नमेंट लॉ कॉलेज ने अपने स्तर पर सीटें बढ़ाकर संख्या पोर्टल पर अपलोड कर दी थी। उच्च शिक्षा विभाग ने काउंसलिंग के जरिए एडमिशन भी दे दिए, पर बढ़ी सीटों पर बार काउंसिल ऑफ इंडिया की अनुमति नहीं होने से अतिरिक्त सीट पर एडमिशन लेने वालों की यूनिवर्सिटी ने परीक्षा नहीं करवाई। विभाग इस बार काउंसलिंग से पूर्व बीसीआई की अनुमति भी जांचेगा।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???