Patrika Hindi News

> > > > early signs and cure of hiv

क्या आप एचआईवी से ग्रसित हैं?

Updated: IST early signs and cure of hiv
अकसर देखा जाता है कि लोग HIV टेस्ट को लेकर काफी शरमाते हैं। जिसके परिणाम बेहद घातक होते हैं। AIDS के शुरुआती लक्षण

इंदौर। HIV को ह्यूमन इम्यून डिफिशंसी वाइरस के नाम से जाना जाता है। यह एक संक्रामक बीमारी है जो इम्यून सिस्टम को बरबाद कर देती है। इसका संक्रमण हो जाने पर कुछ आरंभिक लक्षण नजर आते हैं।

यदि आप इन लक्षणों को समझ पाएं तो इसका निदान भी किया जा सकता है। अकसर देखा जाता है कि लोग HIV टेस्ट को लेकर काफी शरमाते हैं। जिसके परिणाम बेहद घातक होते हैं। AIDS के शुरुआती लक्षण -

यह भी पढ़ें- सेना में भर्ती होकर आतंक को साफ करेंगे एमपी के युवा, आज देंगे आर्मी स्कूल में परीक्षा

वजन कम होना-

यदि आपके वजन में एकाएक बदलाव महसूस हो। यदि महसूस हो कि आप सामान्य की तुलना में तेजी से weight loss हो रहा है तो सावधान हो जाएं। यह एचआईवी के प्रारंभिक लक्षण हो सकते हैं। वजन कम होने को एडवांस इलनेस के रुप में भी देखा जाता है। इसका अर्थ यह है कि आपका इम्यून सिस्टम बुरी स्थिति में पहुंच गया है।

लगातार खांसी या सूखी खांसी-

लागातार खांसी या सूखी खासी लाना भी AIDS के शुरूवाती लक्षण हो सकते हैं। यह भी हो सकता है कि टीबी या डस्ट एलर्जी के कारण आपको खांसी आ रही हो लेकिन यदि खांसी ना रुके तो एक बार HIV टेस्ट करवाने में बुराई नहीं है।

यह भी पढ़ें- तलाक- तलाक-तलाक, शबाना ने खून से चीफ जस्टिस को लिखी दरख्वास्त!

नाखुनों में बदलाव-

HIV वायरस आपके इम्यून सिस्टम पर हमला बोलता है। आपके नाखुनों का लगातार टूटना, कमजोर होना या पीला होना खराब इम्यून सिस्टम की निशानी है, यदि नाखुनों में खासा बदलाव देंखे तो एचआईवी का टेस्ट जरूर करवाएं।

थकान हावी होना-

आप एनर्जेटिक व्यक्ति थे लेकिन कुछ दिनों से लगातार थकान हावी हो रही है। आप सुस्त और थके मांदे रहते हैं तो यह एक चेतावनी है। एकाएक व्यक्तित्व में हुआ यह परिवर्तन AIDS की दस्तक हो सकता है। HIV संक्रमण के शुरुआती चरण और बाद में भी थकावट के लक्षण दिखाई देते हैं।

मसल्स और जोड़ों में दर्द-

यदि आप ठीक ठाक सेहतमंद व्यक्ति हैं और एकाएक आपके मसल्स और जोड़ों में तेज दर्द होने लगता है। यह दर्द कई बार असहनीय होता है तो HIV का एक कारण हो सकता है। एड्स जैसी लाइलाज बीमारी पर शोध कर रहे शोधकर्ता रोज नए तथ्यों को सामने ला रहे हैं। सभी का कहना है कि एड्स आपका इम्यून सिस्टम खराब करता है। इसलिए यदि आपको किसी भी तरह की नई परेशानियों से रूबरू होना पड़ रहा है तो एक बार एचआईवी टेस्ट जरूर करवाएं।

यह भी पढ़ें- इंदौर में करीना कपूर के बेबी बंप फोटोशूट का ट्रेंड, लेडीज कर रही प्राउड फील

सिर दर्द औऱ त्वचा में बदलाव-

यदि सिर दर्द आपकी जिंदगी का हिस्सा बन गया है तो इसे भी एचआईवी का शुरूआती लक्षण माना जाता है। इसे एसआरएस कहा जाता है। इसके साथ ही यदि आपको त्वचा पर दाने दिखाईं दें। खुजली बंद नहीं हो तो आप को HIV टेस्ट करवाना बेहतर होगा।

aids day 2016

क्या आप एड्स से ग्रसित है

-यदि आपको लग रहा है कि आप एड्स की बीमारी से ग्रसित हैं तो निम्न परीक्षण के जरिए एड्स का पता लगाया जा सकता है। साथ ही यह उपचार लिए जा सकते हैं।

- एचआईवी एलिएजा एंटीबॉडी टेस्ट से संक्रमण को पकड़ा जा सकता है। यह टेस्ट सभी मुख्य शहरों में उपलब्ध है।

- वेस्टर्न ब्लोर टेस्ट भी एड्स की सही जानकारी देता है।

- एड्स के मरीज के इलाज में सीडी -4 सेल काउंट और आरएनए कॉपीज टेस्ट की जरूरत होती है।

-इस टेस्ट से पता चलता है कि बीमारी की स्टेज क्या है और दवाएं कौनसी देनी है।

- हाइली एक्टिव एंटीरिट्रोवाइरल थेरेपी द्वारा भी एड्स का उपचार किया जाता है। यह तरीका मंहगा है। इसका खर्च 8 से 10 हजार रुपए प्रति माह आता है। साथ ही यह उपचार लगातार कई सालों तक जारी रहता है।

और कमी लाने के प्रयास करेंगे

छह साल के आंकड़े देखें तो एड्स पॉजिटिव रोगियों की संख्या में कमी आई है। इस साल 1 जनवरी से 30 नवंबर तक कुल 600 नए मरीज मिले हैं। हमारा प्रयास है कि आने वाले वर्षों में जागरूकता और सही मार्गदर्शन के सहारे पॉजिटिव मरीजों में और कमी लाई जाए।

-डॉ. विजय छजलानी, जिला एड्स रोकथाम व नियंत्रण अधिकारी

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???