Patrika Hindi News

‘मिल-बांचें’ में माननीय सुनाएंगे  इतिहास और महापुरुषों की गाथाएं

Updated: IST shivraj
बचपन में जिस स्कूल में पढक़र ऊंचा मुकाम हासिल किया, वे छात्र शनिवार को अपने स्कूल में पहुंचकर विद्यार्थियों के साथ समय क्वालिटी टाइम बिताएंगे।

इंदौर. बचपन में जिस स्कूल में पढक़र ऊंचा मुकाम हासिल किया, वे छात्र शनिवार को अपने स्कूल में पहुंचकर विद्यार्थियों के साथ समय क्वालिटी टाइम बिताएंगे। मिल-बांचें अभियान में पढ़ाने के लिए प्रमुख सचिव बीपी सिंह 18 फरवरी को इंदौर आएंगे। वे स्कीम 78 के अरण्य नगर स्थित स्कूल में जाकर बच्चों को पढ़ाएंगे।

जिले के सभी विधायक सुदर्शन गुप्ता, महेंद्र हार्डिया, मालिनी गौड़, जीतू पटवारी, राजेश सोनकर और जनप्रतिनिधि अपने क्षेत्रों के स्कूलों में पहुंचकर महापुरुषों, इतिहास के साथ जीवन प्रबंध का पाठ पढ़ाएंगे। हालांकि कांग्रेस विधायक ने अभियान का विरोध किया है। उनका कहना है, जिसका जो काम है, उसे वही करना चाहिए।

इस अभियान में संभागायुक्त संजय दुबे माध्यमिक विद्यालय, मूसाखेड़ी, कलेक्टर पी. नरहरि प्राथमिक विद्यालय, पालिया और डीआईजी हरिनारायणाचारी मिश्रा माध्यमिक विद्यालय, बांगड़दा में बच्चों को शिक्षा देंगे। एसपी, सीएसपी सहित पुलिस विभाग के 100 अफसर बच्चों से सीधा संवाद करेंगे। बच्चों को निराशा से लडऩे की सीक देंगे, जिससे वे चुनौतियों से लड़ सकें।

मुख्यमंत्री ने पचमढ़ी में दिया मंत्र
पचमढ़ी में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री ने शिवराज सिंह चौहान ने विधायकों से पूछा, 18 फरवरी को क्या खास है, तो अधिकतर ने प्रदेश अध्यक्ष के यहां शादी की बात कही। इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि 18 फरवरी को सभी विधायक और जनप्रतिनिधि अपने क्षेत्र के स्कूलों में जाकर बच्चों से मिलें। प्रेरक कहानियों के माध्यम से बच्चों को प्रोत्साहित करें। ‘मिल-बांचें’ अभियान में जिले के 1700 स्कूल में 2746 लोगों ने रजिस्ट्रेशन कराया है। इसमें डॉक्टर, इंजीनियर, छात्र, खिलाड़ी, गृहिणी शामिल हैं।

मुख्यमंत्री के निर्देश पर प्रदेश के 247 जनप्रतिनिधियों ने भी रजिस्ट्रेशन कराया है। अभियान के लिए 22 जनवरी से 10 फरवरी तक रजिस्ट्रेशन किए गए थे। इसमें सभी ने स्कूलों का चयन किया है। जिन लोगों ने रजिस्ट्रेशन किया है, वे अपनी प्रगति को लेकर किए गए प्रयासों से बच्चों को अवगत कराएंगे और प्रेरित भी करेंगे।

sudarshan

क्षेत्र विधायक शिक्षा इन स्कूलों में करेंगे संवाद
इंदौर 1 सुदर्शन गुप्ता एमकॉम, एलएलबी शारदा कन्या विद्यालय

ये सिखाएंगे : बच्चों को सीख देने के साथ उनसे सीखने को मिलेगा। बच्चों को प्रेरित करने के साथ समस्याएं सुनेंगे।

usha thakur

इंदौर 3 उषा ठाकुर बीएड अहिल्याश्रम विद्यालय
ये सिखाएंगी : प्रेरक उद्बोधन देंगी। वे जीवन प्रबंध के बारे में जानकारी देंगी।

malini
इंदौर 4 मालिनी गौड़ बीए अत्रिदेवी स्कूल, अन्नपूर्णा
ये सिखाएंगी : भारत का इतिहास बताएंगे। आजादी में बलिदान देने वालों की गाथाएं सुनाएंगे। मन की बात जानेंगे।

mahendra
इंदौर 5 महेंद्र हार्डिया एमए प्राथमिक विद्यालय, विद्यासागर टेकरी
ये सिखाएंगे : देश के महापुरुषों के बारे में बताएंगे। समस्याओं की जानकारी लेकर हल करने का प्रयास करेंगे।

rajesh
सांवेर राजेश सोनकर एलएलबी,पीएचडी माध्यमिक विद्यालय, नागरपुर
ये सिखाएंगे : बच्चे स्मार्ट हैं, हमें तैयारी से जाना होगा। बच्चों को जानकारी देने के साथ ही उनसे भी सीखेंगे।

jitu patwari
राऊ जीतू पटवारी बीए,एलएलबी प्राथमिक विद्यालय, राऊ
विरोध : 50 प्रतिशत विधायक 8वीं तक पढ़े हैं। वे क्या सीख देंगे। जिनका काम है उन्हें करने दें। मैं संवाद नहीं करूंगा।

1698 स्कूलों में 2746 लोग मिल बांचेंगे
1920 युवा
492 जनप्रतिनिधि
100 पुलिस अफसर
60 सेवानिवृत्त
60 गृहिणियां
45 स्वयंसेवी संगठन
32 व्यवसायी
15 डॉक्टर्स
11 अधिवक्ता
08 पत्रकार
03 खिलाड़ी

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???