Patrika Hindi News

देश के अच्छे दिन आए या नहीं, BJP के अच्छे दिन आ गए- नंदकुमार सिंह चौहान

Updated: IST bjp meeting
देश के अच्छे दिन आए है या नहीं, ये बात अब भी बहस का मुद्दा हो सकती है, लेकिन बीजेपी के अच्छे दिन आ गए है, इस बात में कोई संदेह नहीं है। पिछले 35 सालों में BJP के लिए इतनी अनुकूलता कभी नहीं रही, जितनी अब है।

इंदौर। देश के अच्छे दिन आए है या नहीं, ये बात अब भी बहस का मुद्दा हो सकती है, लेकिन बीजेपी के अच्छे दिन आ गए है, इस बात में कोई संदेह नहीं है। पिछले 35 सालों में BJP के लिए इतनी अनुकूलता कभी नहीं रही, जितनी अब है।

ये बात भारतीय जनता पार्टी के प्रदेशाध्यक्ष नंदकुमार सिंह चौहान ने शुक्रवार को मोहनखेड़ा में शुरू हुई भाजपा कार्यसमिति की दो दिवसीय बैठक में कही। पढि़ए बैठक से जुड़ी ऐसी ही अहम बातें पत्रिका की इस लाइव खबर में-

- नंदकुमार सिंह चौहान ने कहा कि 1 साल में बूथ स्तर पर बीजेपी का स्थापना दिवस मनाया गया। 64 हजार बूथों में से 52 हजार बूथों पर कार्यक्रम हुए। बांधवगढ़ में हम 25 हजार वोट से जीते है और अटेर में महज 800 वोट से हारे है। पिछली बार अटेर में 11 हजार वोट के बड़े अंतर से हारे थे। ये सही है कि वहां जीतना चाहिए था, वहां की हार के बारे में हमें बारीकि से समीक्षा करनी होगी।

nand kumar chouhan

- जनता से जुडऩे के लिए संवाद से बेहतर कोई माध्यम नहीं होता। 2018 का चुनाव भी हम शिवराज सिंह चौहान के नेतृत्व में ही लड़ेंगे। पार्टी ने इनके नेतृत्व में कई प्रंशसनीय कार्यक्रम किए है। 1860 मंडलों में से 1260 पर झंडा ऊंचा रहे कार्यक्रम हुआ, ग्रामोदय अभियान 14 अप्रैल से राज्य सरकार ने शुरू किया है , इस कार्यक्रम के जरिये नेता जनता के बीच जाकर जनता के दिल की भावनाएं जाने।

- 35 साल में बीजेपी के लिए इतनी अनुकूलता कभी नही रही, जो अब है। 52 फीसदी पिछडो के लिए आयोग को संवैधानिक दर्जा दिया। लेकिन राज्य सभा मे कांग्रेस ने रोकने का काम किया है। ये बात पिछड़ा वर्ग के लोगो के बीच पहुंचकर बात करना है।

- राज्य के 2 फैसले है- सभी को घर और मेधावी छात्रों को स्कॉलर शिप योजना मिलेगी।
- 20 से 28 मई तक 25 से 12 दिसंबर को कार्यकर्ताओं को ये समय देना होगा। संगठन के नेता मध्यप्रदेश में समय देंगे।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???