Patrika Hindi News

हराभरा मध्यप्रदेश : अब बांसों से किसानों की सुधरेगी की हालत

Updated: IST bamboo
किसानों ने लगाए बांस के 5 लाख पौधे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किसानों की आय दोगुनी करने के संकल्प को सार्थक करने के लिए मुख्यमंत्री ने किसानों को बांस की पैदावार प्रशिक्षण और बीज उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया था।

इंदौर. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा किसानों की आय दोगुनी करने के संकल्प को सार्थक करने के लिए मुख्यमंत्री ने किसानों को बांस की पैदावार प्रशिक्षण और बीज उपलब्ध करवाने का निर्णय लिया था। 2 साल पहले शहर में हुए राष्ट्रीय बम्बू समिट में इसे लेकर रूपरेखा तैयार की गई थी। इसके बाद से किसानों ने अपने खेतों में फसलों के साथ अब बांस भी लगाना शुरू कर दिया है।
इंदौर में पहली बार वन विभाग ने इस वर्ष मानसून के पहले लगभग 4 लाख बांस के पौधे किसानों को दिए व जंगलों में रोपे हैं, जिसका असर आने वाले 2 से 3 वर्षों में देखने को मिलेगा। किसानों की फसलें सीमित होने के कारण कई बार उचित मुनाफा नहीं मिल पाता और कई बार प्रकृति की मार से लागत भी नहीं निकल पाती है। केंद्र और राज्य सरकार लंबे समय से किसानों की आय बढ़ाने के लिए काम कर रही है। इसी तारतम्य में प्रदेश सरकार ने किसानों को अपने खेतों की मेढ़ व ऐसे हिस्से में जहां फसलों का उत्पादन नहीं हो पाता, वहां बांस लगाने के लिए प्रेरित करने का जिम्मा उठाया था। इसके लिए प्रदेश सरकार ने वन विभाग को जिम्मेदारी सौंपी थी, वे किसानों को बांसों की प्रजातियों, पैदावार व उनके उपयोग के साधनों के बारे में बताएं। मुख्यमंत्री ने शहर में हुए कार्यक्रम में घोषणा की थी, जिस तरह प्रदेश सरकार समर्थन मूल्य पर फसलें खरीदती है, बांस भी किसानों से अलग-अलग जिलों में शिविर लगाकर खरीदा जाएगा।

उपयोगी वस्तुओं का होता है निर्माण
दरअसल, बांस से ऐसी अनेक वस्तुओं का निर्माण होता है, जो हमारी दिनचर्या में उपयोग में लाई जाती है। आजकल बांसों का प्रयोग फर्नीचर, आर्टिफिशियल ज्वेलरी, कंस्ट्रक्शन, फार्म हाउस और कागज बनाने सहित कई वस्तुओं के उपयोग में होता है। आम लोग इन वस्तुओं का उपभोग भी आसानी से करते हैं, क्योंकि अन्य वस्तुओं की अपेक्षा ये सस्ते होते हैं। इसके चलते केंद्र और प्रदेश सरकार की मंशा थी कि किसानों को इस अतिरिक्त फसल का लाभ देकर आय को दोगुना किया जाए। इस विषय पर फिलहाल गंभीरता से काम किया जा रहा है।

किसानों की बढ़ रही रुचि
किसानों की बढ़ रही रुचि हमारे द्वारा इस वर्ष 5 लाख बांस के पौधे किसानों व जंगलों में रोपे गए हैं। पहली बार किसानों की रुचि इसमें देखी जा रही है। वन विभाग इन्हें लगाने तरीके व संधारण की विधि भी किसानों को सिखा रहा है।
विश्राम सागर शर्मा, सीसीएफ, अनुसंधान केंद्र

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???