Patrika Hindi News

स्टेट लेवल में दिलाए 7 मेडल्स, ओलंपिक की तैयारी में जुटी ये बेटियां

Updated: IST sports
बॉक्सिंग रिंग में दम दिखा रहीं शहर की मैरिकॉम, फर्स्ट एमपी स्टेट वुमन बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में मारी बाजी।

रीना [email protected]

शहर की यह बेटियां, उम्र में छोटी, लेकिन बॉक्सिंग रिंग में बड़ी खिलाड़ी हैं। हौसला भी पहाड़ जैसा विशाल। लक्ष्य एकदम स्पष्ट, ओलंपिक में देश को गोल्ड मेडल दिलाना है। हम बात कर रहे हैं अहिल्या नगरी की ऐसी युवा बेटियों की, जिन्होंने शहर को हाल ही में पहली बार एक साथ 7 मेडल दिलाए हैं। नेहरू स्टेडियम में कोच नर्मदा कश्यप से प्रशिक्षण लेने वाली इन बेटियों ने शहर का नाम रोशन किया और कड़े संघर्ष के बाद बॉक्सिंग रिंग में दम दिखा रही हैं।

बीती 3 और 4 फरवरी को जबलपुर में हुई फर्स्ट एमपी स्टेट वुमन बॉक्सिंग चैम्पियनशिप में इंदौर को एक साथ दो गोल्ड, दो सिल्वर और तीन ब्रॉन्ज मेडल मिले हैं। पहली बार ऐसी खुशी देने वाली बेटियों की उम्र महज 12 से 19 वर्ष है। कोच नर्मदा कश्यप और टीम मैनेजर दीप कुमार पटेल इन बॉक्सिंग की खिलाडिय़ों को लेकर हाल ही में इंदौर लौटे हैं। पूरी टीम सफलता से गद्गद है।

क्वालिफाइंग पर नजर

ये खिलाड़ी अभी प्रशिक्षण में जुटी हुई हैं, ताकि ओलंपिक में क्वालिफाय कर देश के लिए पदक जीत सकें। नेहरू स्टेडियम में प्रशिक्षण ले रही लड़कियों में सबसे छोटी महज छह साल की है। वैसे इस उम्र से लेकर 20 साल तक की लड़कियां बॉक्सिंग में दक्ष हो रही हैं।

sports2

बाजुओं में है दम

पत्रिका ने इन खिलाडिय़ों से बात की तो वे बोलीं, हम लड़कियां हैं तो क्या हुआ, हमारे बाजुओं में भी दम है। बॉक्सिंग सीखने के बाद तो हमारा साहस बढ़ गया है। अब जीवन की हर मुश्किल का सामना करने को तैयार हैं।

ये सफलताएं भी खाते में

अर्पिता ने अब तक स्कूली स्पर्धाओं में एक गोल्ड मेडल और अंजलि ने सिल्वर मेडल के अलावा ग्वालियर में हुई स्टेट लेवल स्कूल प्रतियोगिता में ब्रॉन्ज मेडल जीतकर सफलता पाई थी। इसके अलावा सलोनी ने भोपाल में हुए खेलो इंडिया टूर्नामेंट में सिल्वर मेडल जीतकर शहर का नाम रोशन किया था।

कड़े मुकाबले थे इनके वर्ग में

जिस स्पर्धा में इन खिलाडिय़ों ने मेडल जीते हैं, उसमें प्रदेश के सभी संभागों और जिलों की टीमों ने हिस्सा लिया था। अपने-अपने वर्ग में इन खिलाडिय़ों ने कड़े मुकाबले में विपक्षी खिलाडि़य़ों को मात दी और पदक हासिल किए। इनके खेल की वहां मौजूद दर्शकों और खेल विशेषज्ञों ने काफी तारीफ भी की।

इन्होंने जीते मेडल

- नाम : आयुषी कौशल
उम्र: 12 वर्ष
वजन वर्ग: 28 से 30 किलोग्राम
मेडल: गोल्ड
- नाम: अर्पिता शुक्ला
उम्र: 16 वर्ष
वजन वर्ग: 80 किलोग्राम
मेडल: गोल्ड
- नाम: सलोनी पटेल
उम्र: 14
वजन वर्ग: 52 से 54 किलोग्राम
मेडल: सिल्वर
- नाम: जाह्नवी पंडित
उम्र: 15 वर्ष
वजन वर्ग: 50 से 52 किलोग्राम
मेडल: सिल्वर
- नाम: अंजलि बंगलेवाला
उम्र: 14 वर्ष
वजन वर्ग: 48 किलोग्राम
मेडल: ब्रॉन्ज
- नाम: अदिति कश्यप
उम्र: 16 वर्ष
वजन वर्ग: 48 से 50 किलोग्राम
मेडल: ब्रॉन्ज
- नाम: दिव्या नागर
उम्र: 19 वर्ष
वजन वर्ग: 46 से 48 किलोग्राम
मेडल: ब्रॉन्ज

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???