Patrika Hindi News

नोमुरा ने कहा: चालू खाता घाटा जीडीपी का 1.6 प्रतिशत होगा!

Updated: IST Nomura
जिंसों की ऊंची कीमत तथा घरेलू स्तर पर मजबूत सुधार से भारत का चालू खाते का घाटा इस साल बढ़कर सकल घरेलू उत्पाद का 1.6 प्रतिशत पहुंच जाने का अनुमान है।

नई दिल्ली. जिंसों की ऊंची कीमत तथा घरेलू स्तर पर मजबूत सुधार से भारत का चालू खाते का घाटा इस साल बढ़कर सकल घरेलू उत्पाद का 1.6 प्रतिशत पहुंच जाने का अनुमान है। यह 2016 में 0.5 प्रतिशत था। जापान की वित्तीय सेवा कंपनी नोमुरा के अनुसार मजबूत वैश्विक मांग और निर्यात की ऊंची कीमत से निर्यात में सुधार आ रहा है। वहीं, आयात में सुधार जिंसों की ऊंची कीमत तथा घरेलू मांग में सुधार को प्रतिबिंबित करता है। नोमुरा ने एक शोध रिपोर्ट में कहा कि वर्ष 2017 में सीएडी बढ़कर जीडीपी का 1.6 प्रतिशत हो जाने का अनुमान है। इसका कारण जिंसों की ऊंची कीमत तथा 2017 की दूसरी छमाही में घरेलू स्तर पर मजबूत सुधार की उम्मीद है। कैड वस्तु, सेवा एवं निवेश आय तथा निर्यात का अंतर है। यह 2016 की अक्तूबर-दिसंबर तिमाही में जीडीपी का 1.4 प्रतिशत रहा।

२७.६ फीसदी बढ़ा निर्यात

इन सबके बीच निर्यात में वृद्धि जारी है और मार्च महीने में यह सालाना आधार पर 27.6 प्रतिशत बढ़ा, जबकि फरवरी में इसमें 17.5 प्रतिशत की वृद्धि हुई थी। वहीं आयात वृद्धि मार्च में बढ़कर 45.3 प्रतिशत हो गई, जो फरवरी में 21.8 प्रतिशत थी। इस साल की शुरुआत से घरेलू रुपया अन्य उभरते बाजारों के अनुरूप मजबूत हुआ है, जो भारतीय अर्थव्यवस्था की मजबूती को प्रतिबिंबित करता है। डॉलर के मुकाबले रुपए फिलहाल 64 के स्तर पर बना हुआ है। नोमुरा के अनुसार हालांकि मजबूत वैश्विक मांग तथा निर्यात की ऊंची कीमत से निर्यात में सुधार हो रहा है, लेकिन अमरीका में संरक्षणवादी उपायों और चीन में नरमी जैसे कारणों से जोखिम बना हुआ है।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???