Patrika Hindi News

> > > > amazing drug found in jabalpur who stop the blood in a second, sent to PM Modi

Video Icon  VIDEO: मुंह में पत्ती रखते ही बंद हो जाता है खून का बहाव, मोदी कराएंगे वैज्ञानिक परीक्षण

Updated: IST girdhar singh
औषधि से खून बंद करने के दावा, पीएम के पास से आया परीक्षण के लिए पत्र

जबलपुर। शहर के एक बुजुर्ग ने ऐसी पत्ती खोजी है जिसको खाते ही बह रहा खून तत्काल बंद हो जाता है। बुजुर्ग का दावा है कि किसी को गोली लग जाए या फिर घायल हो जाए उसे यह जड़ी (पत्ती) खिला दी जाए तो उसका खून निकलना बंद हो जाता है। व्यक्ति को जड़ी की मदद से बचाया जा सकता है। बुजुर्ग ने यह जड़ी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पास भी भेजी है। उनका कहना है कि यह जड़ी सैनिकों के लिए सबसे ज्यादा कारगर सिद्ध हो सकती है।

जबलपुर के छोटे फुहारा मे रहने वाले गिरधर सिंह उर्फ पापा पहलवान उम्र 73 वर्ष का दावा है कि उनके पास ऐसी जड़ी है जिससे बहता खून पल भर में ही बंद हो जाता है। वे इस जड़ी का प्रयोग कई बार कर चुके हैं। गिरधर सिंह प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के पास यह जड़ी लेकर गए थे। हालाकि उनकी मुलाकात पीएम मोदी से नहीं हो पाई, लेकिन वे अपना पत्र और जड़ी पीएम कार्यालय में देकर आए हैं। उनका कहना है कि इस जड़ी के प्रयोग से सीमा पर सुरक्षा कर रहे सैनिकों को बचाया जा सकता है।

amazing drug

टेस्ट के लिए भेजी औषधि

गिरधर सिंह ने बताया कि उन्हें पीएम कार्यालय से पत्र प्राप्त हुआ है। उनके द्वारा दी गई औषधि की जांच की जा रही है। यदि यह औषधि जांच में सफल होती है तो इससे लाखों लोगों को असमय मौत के मुंह में जाने से बचाया जा सकता है।

pm latter

यहां मिलती है औषधि

बुजुर्ग ने बताया कि उन्हें यह जड़ी उनके गुरू गोसलपुर वाले दादा शिवदत्त महाराज ने दी थी। हालाकि यह जड़ी अमरकंटक के पहाड़ों पर मिलती है। पर इसकी पहचान दुनिया में बहुत कम लोगों को ही है। बुजुर्ग का दावा है कि अब हिन्दुस्तान में केवल उन्हें ही इस औषधि की पहचान है।

यह है औषधि

जिस औषधि के बारे में खून बंद करने का दावा किया जा रहा है। वह अमरकंट के पहाड़ो में पाई जाती है। जानकारों की मानें तो यह एक बेल होती है जो अन्य पेड़ो से लिपटती है। बेल की पत्तियां ही औषधि के रूप में काम करती हैं।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???