Patrika Hindi News

रिश्वतखोर सहायक यंत्री को 3 साल की जेल

Updated: IST bribe
लोकायुक्त की विशेष अदालत ने सहायक यंत्री मोहम्मद शमीम खान को सुनाई 3 साल की सजा,10 हजार का जुर्माना

जबलपुर। एक किसान के खेत में लगे ट्रांसफार्मर को बदलने के लिए पांच हजार रुपए की रिश्वत लेने के मामले में अदालत ने बिजली कंपनी के एक सहायक यंत्री को तीन साल की जेल और 10 हजार रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई है।

जानकारी के अनुसार सितंबर 2013 में पाटन के किसान संजीव राज विश्वकर्मा से बदनहार गांव स्थित खेत में लगा पुराना ट्रांसफार्मर बदलने के लिए बिजली कंपनी के सहायक यंत्री मोहम्मद शमीम खान ने 5 हजार रुपए की रिश्वत मांगी थी। जिसकी शिकायत किसान ने लोकायुक्त पुलिस से की थी। पुलिस ने उसे रंगे हाथ पकडऩे के लिए जाल बिछाया और रिश्वत के रूप में किसान ने जब खान को 5 हजार रुपए दिए तो उसे दबोच लिया गया। बुधवार को इस मामले में फैेसला देते हुए न्यायमूर्ति मधुसूदन मिश्र की विशेष अदालत ने खान को तीन साल की जेल और 10 हजार रुपए के जुर्माने की सजा सुनाई।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???