Patrika Hindi News

Video Icon पनागर में बायें तट नहर फटी, 70 एकड़ की फसल खराब, दर्जनभर किसान प्रभावित-देखें लाइव वीडियो

Updated: IST canal ruptured due, negligence of irrigation depar
नहर फटने से करीब 70 एकड़ की खड़ी फसल खराब हो गई, जिससे दर्जन भर से अधिक किसान प्रभावित हुए हैं

जबलपुर। सिंचाई विभाग की लापरवाही कब किसे भारी पड़ जाए कोई नहीं कह सकता। इसकी बानगी गुरुवार आधी की रात को पनागर के उर्दुआ खुर्द में देखने मिली है। जहां बारिश के दौरान बार-बार विभाग के जिम्मेदारों को सूचित करने के बावजूद रिसती हुई नहर की मरम्मत नहीं की गई। आखिरकार दरारों में पानी भरता रहा और वह गुरुवार रात को पानी का दबाव नहीं झेल पाई और फट गई। नहर फटने से करीब 70 एकड़ की खड़ी फसल खराब हो गई। जिससे दर्जन भर से अधिक किसान प्रभावित हुए हैं। नहर फूटने की सूचना पर दोपहर तक कोई भी अधिकारी मौके पर नहीं पहुंचा है। जिससे किसानों में रोष व्याप्त है।

उर्दुआ खुर्द के पूर्व उपसरपंच सालिगराम बिलोहा ने बताया कि पनागर तहसील से बायें तट बरगी नहर गुजरती है। ग्राम पंचायत उर्दुआ खुर्द के पास इसमें बारिश के दौरान रिसाव देखा गया था। जिसकी मरम्मत के लिए सिंचाई विभाग सहित प्रशासन के आला अधिकारियों को सूचित किया गया था। लेकिन किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया। गुरुवार रात को जब नहर में पानी छोड़ा गया तब दरारें दबाव नहीं झेल पाईं और नहर फट गई। जिससे नहर का पानी मूंग और उड़द के खेतों में घुस गया।

मौके पर पहुंचे पूर्व जिला पंचायत अध्यक्ष भारत सिंह यादव के अनुसार फसल पकने पर थी और अगले 15 से 20 दिनों में मूंग व उड़द की कटाई होनी थी। खेतों में करीब एक फीट तक नहर का पानी भर गया है। इससे फसलें पूरी तरह खराब हो गई हैं। पानी से 70 एकड़ की फसल खराब हुई है। एक अनुमान के अनुसार पानी के कारण करीब 60 से 65 लाख रुपए का नुकसान हुआ है। आधिकारिक पुष्टि सिंचाई विभाग के सर्वे के बाद ही हो पाएगी।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???