Patrika Hindi News

Photo Icon 3 दिन बाद भी सूखे पड़े नल, यहां बूंद-बूंद पानी को तरस रहे लोग

Updated: IST water
पानी के संकट से लोग बीते तीन दिनों से जूझ रहे हैं लेकिन गुरूवार की सुबह इनके लिए कुछ ज्यादा ही कष्टकारी रही।

जबलपुर। पानी के संकट से लोग बीते तीन दिनों से जूझ रहे हैं लेकिन गुरूवार की सुबह इनके लिए कुछ ज्यादा ही कष्टकारी रही। तीन दिनों बाद गुरूवार की सुबह लोगों को नल की सुविधा पूर्ववत होने की पूरी उम्मीद थी लेकिन एक बार फिर विभिन्न क्षेत्रों के नल सूखे हुए पड़े रहे।

गढ़ा क्षेत्र में सर्वाधिक बिगड़े हुए हालात देखने मिले। लोग प्लास्टिक के डिब्बों में पानी भरने के लिए साइकिल और गाडिय़ों कपर निकल पड़े। कोई कुएं पर नजर आया तो कोई हैंडपंप की ओर गया। हालांकि इस क्षेत्र के ज्यादातर हैंडपंप भी बिगड़े हुए हैं जिसकी वजह से समस्या और बढ़ गई। घरों में लोग बूंदबूंद पानी के लिए परेशान नजर आए।

विदित हो कि राइजिंग मेन पाइप लाइन के मेडिकल और बाजनामठ में लीकेज सुधार कार्य के चलते रमनगरा जलशोधन संयंत्र से जुड़ी 16 उच्चस्तरीय टंकियों से पानी का वितरण नहीं हो पा रहा है। इसके लिए तीन दिन आधे शहर में पानी की सप्लाई नही होने की बात कही गई थी। नगर-निगम ने सुधार कार्य भी शुरू कर दिया था लेकिन गुरूवार सुबह हालत बुरी तरह बिगड़े हुए देखे गए।

water

हो चुकी है प्रभावित
हाईटेंशन लाइन की क्षमता वृद्धि कार्य के कारण 24 व 26 नवंबर की शाम जलापूर्ति रमनगरा से पहले ही प्रभावित हो चुकी है। बिजली कंपनी द्वारा शट डाउन लेकर यह काम सोमवार को भी किया गया। बाजनामठ के पास राइजिंग मेन लाइन में बड़ा लीकेज आ जाने की वजह से बड़ी मात्रा में बर्बाद हो रहे पानी को बचाने निगम ने सुधारकार्य कराने का निर्णय लिया था। इसके साथ ही मेडिकल कॉलेज के पास स्थित पुराने लीकेज को सुधारने की बात बुधवार शाम तक कही गई थी। जिससे संबंधित क्षेत्र के लोग किसी तरह पानी की व्यवस्था कर रहे थे। लेकिन गुरूवार को सूखे हुए नलों को बड़ी संख्या में लोग आक्रोशित दिखायी दिए। संबंधित अधिकारियों के अनुसार पाइप लाइन में सुधार का कार्य पूर्ण हो चुका है। शाम तक जलापूर्ति सुचारू रूप से चालू कर दी जाएगी। निगम ने टेस्टिंग शुरू कर टंकियों में पानी भरने की कवायद भी शुरू कर दी है। सुधार के बाद संभवत: दोपहर के वक्त भी कुछ स्थानों पर सप्लाई की जा सकती है।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ? भारत मॅट्रिमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???