Patrika Hindi News

शहर में बाइक की तरह फर्राटा भरेंगी ई-साइकिलें, हर 500 मीटर की दूरी पर होगा स्टेशन 

Updated: IST e-bicycle
निगम ने कोयम्बटूर स्थित कंपनी से सैम्पल के तौर पर एक ई-साइकिल मंगवाया है, जो निगम परिसर में आकर्षण का केन्द्र है। जेसीटीएसएल के नियंत्रण में होगा संचालन।

जबलपुर। जल्द ही शहर के भीतर इलेक्ट्रिक साइकिलें फर्राटा भरती नजर आएंगी। बैटरी से चलने वाली इन अत्याधुनिक साइकिलों को बिना रुके तीस किमी तक दौड़ाया जा सकेगा। बैटरी खत्म होने पर भी ये साथ नहीं छोड़ेंगी। इन्हें सामान्य साइकिल की तरह भी इस्तेमाल किया जा सकेगा। निगम ने कोयम्बटूर स्थित कंपनी से सैम्पल के तौर पर एक ई-साइकिल मंगवाया है, जो निगम परिसर में आकर्षण का केन्द्र है।

जीपीएस से जुड़ेंगी
स्मार्ट सिटी प्रप्रोजल के तहत शहर में नॉन मोटराइज्ड ट्रांसपोर्ट (एनएमटी) को बढ़ावा देने की योजना पर काम शुरू हो गया है। इसका संचालन जेसीटीएसएल के नियंत्रण में होगा। कटंगा-ग्वारीघाट रोड व ओमती नाले पर एनएमटी के लिए साइकिल टै्रक के निर्माण की कवायद में निगम प्रशासन जुट गया है। इनमें चलने वाली ई-साइकिल जीपीएस से जुड़ी रहेंगी। ट्रैक पर इन्हें चलाने के लिए एक से दो घंटे तक किराए पर लिया जा सकेगा। ये सुविधा पब्लिक बाइसिकिल शेयरिंग (पीबीएस) सिस्टम के अंतर्गत मुहैया कराई जाएगी।

2000 से ज्यादा साइकिल आएंगी
शहर में कई नॉन मोटराइज्ड ट्रैक बनाने की योजना है। इन पर चलाने के लिए दो हजार से ज्यादा ई-साइकिलें मंगाने का प्लान तैयार हो रहा है। हालांकि, यह सब पीपीपी मोड पर होने के कारण फाइनल नहीं हुआ है कि कितनी ई-साइकिल आएंगी। एनएमटी में हर पांच सौ मीटर पर स्टेशन होंगे, जहां से किराए पर ई-साइकिल लेने के साथ ही उनकी वापसी की सुविधा रहेगी।

ये है खासियत
-साइकिल व बाइक की तरह इस्तेमाल
-05 गियर से लैस, 30 किमी तक चलती है बैटरी चार्ज होने पर
-2 घंटे में चार्ज हो जाती है बैटरी
-35 हजार रुपए ई-साइकिल की कीमत
-कोयम्बटूर से मंगाई गई।

यहां होगा एनएमटी

1. कटंगा क्रॉसिंग से झंडाचौक ग्वारीघाट तक
-5.50 किमी होगी लम्बाई
-3-3 मीटर सड़क के दोनों ओर साइकिल व वॉकिंग ट्रैक
-3 करोड़ रुपए की लागत से होगा निर्माण
-5 माह में बनाने का टारगेट
-टेंडर किया गया जारी

2. नौदराब्रिज से मदन महल चौराहे के बीच
-ओमती नाले पर बन रहा एनएमटी
-1.50 किमी में होगा निर्माण
- बस स्टैंड मार्केट के पीछे से मदन महल तक चलेंगी ई-साइकिल
- तीन महीने के भीतर सौगात देने की कवायद।

इनका कहना है
शहर में एनएमटी को बढ़ावा देने के प्रयास शुरू कर दिए गए हैं। शहर में ई-साइकिलें चलेंगी। सैम्पल के तौर पर एक ई-साइकिल मंगाई गई है। इसके लिए ट्रैक बनाए जाएंगे, जहां किराए पर साइकिल उपलब्ध रहेंगी।
वेदप्रकाश, निगमायुक्त

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???