Patrika Hindi News

> > > > missing brother meet to his sister in mela

बहन की एक जिद ने मिलाया उसके बिछड़े भाई से...पढि़ए यह कहानी

Updated: IST missing brother meet to his sister in mela,jabalpu
एक साल पहले अपने परिवार से बिछड़ गया था गाडरवारा का 10 वर्षीय बालक, जावरा में मिला

नरसिंहपुर/गाडरवारा। एक बालिका यदि मेेला में झूला झूलने की जिद न करती तो शायद उसे अपना खोया हुआ भाई और एक मां को उसका लाल न मिलता। सुनने में यह कहानी मेले में गुम हुए किसी फिल्म के किरदार की तरह लगती है पर है हकीकत। हम आपको सुना बता रहे हैं ऐसी ही एक रोचक और भावुक कर देने वाली कहानी।

एक साल पहले बिछड़ गया था समीर
गाडरवारा के चावड़ी वार्ड में मुस्लिम समुदाय का 10 वर्षीय समीर अपने दादा-दादी के पास रहता था। एक साल पहले ट्रेन से अपने माता-पिता के पास पिपरिया जाते समय उसकी नींद लग गई और वह पिपरिया में उतरने की बजाय भोपाल पहुंच गया। वहां से जावरा रतलाम पहुंच गया। वहां एक संस्था के संपर्क में आया जिसने उसे एक मुस्लिम परिवार को सौंप दिया। वह परिवार मेला में दुकानें लगाता था। समीर उनके साथ मेला में दुकान लगाने लगा। इधर समीर के माता पिता और परिजन उसे लगातार तलाश रहे थे। बच्चे की तलाश में वे जावरा स्थित हुसैन टेकरी में मन्नत मांगने पहुंंचे जहां समीर की छोटी बहन ने दरगाह के पास झूला झूलने की जिद की। जब वे झूला के पास पहुंचे तो समीर वहां बैठा मिल गया। भाई बहन गले मिलकर रो पड़े उसके बाद समीर अपनी मां से लिपट गया। स्थानीय पुलिस को पूरा घटनाक्रम बताया गया जिसने गाडरवारा पुलिस से संपर्क किया। गाडरवारा पुलिस जावरा पहुंची और बच्चे को गाडरवारा लेकर आई और कानूनी प्रक्रिया पूरी कर बच्चे को उसके परिजनों के सुपुर्द कर दिया। गौरतलब है कि समीर की गुमशुदगी की रिपोर्ट गाडरवारा थाने में दर्ज कराई गई थी।

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!

Latest Videos from Patrika

Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???