Patrika Hindi News

बेटा बिछुड़ा तो पीछे-पीछे मां भी चली गई, एक साथ हुई अंत्येष्टि

Updated: IST maa
गोटेगांव के चंदलौन गांव में पसरा मातम, चार साल के बेटे की मौत के गम में चल बसी मां

गोटेगांवचंदलौन के जिस घर में रोज बच्चों की किलकारियां गंजतीं थीं वहां अब सन्नाटा पसर गया है। गांव के राजेश गौंड का हंसता-खेलता परिवार पलभर में उजड़ गया। गुरुवार को अचानक उनके बड़े बेटे अंकित की मौत हो गई। चार साल के मासूम बेटे की मौत का सदमा मां रीताबाई बर्दाश्त नहीं कर सकी और उनकी भी मौत हो गई। शुक्रवार को गांव में जब मां-बेटे की एक साथ अंत्येष्टि की गई तो हर किसी की आंखें नम हो उठीं।

बेटे के गम में चल बसी मां

गोटेगांव के पास के गांव चंदलौन में यह ह्रदयविदारक हादसा हुआ। राजेश गौंड के दो बेटे हैं जिनमें अंकित बड़ा था। गुरुवार को रोज की तरह अंकित गांव के ही अन्य बच्चों के साथ खेल रहा था। परिजन बताते हैं कि बच्चों के साथ खेल रहे अंकित को अचानक पेट मेंं तेज दर्द उठा। वह रोते हुए घर आया और गिर पड़ा। परिजन उसे इलाज के लिए पास के बगासपुर गांव में ले गए। यहां डाक्टर ने अंकित की नब्ज टटोली तो हैरान रह गए। अंकित की मौत हो चुकी थीं। जैसे ही अंकित का शव लेकर परिजन वापस घर लौटे, वहां कोहराम मच गया। मां रीता तो जैसे बदहवास हो गई। रो-रोकर उसका बुरा हाल हो चुका था। घरवालों ने उसे बहुत संभालने की कोशिश की पर अपने जिगर के टुकड़े का यूं अचानक चले जाना वह बर्दाश्त ही नहीं कर पा रही थी। रोते-रोते रीताबाई को देर रात सीने में दर्द उठा। घरवालों ने फौरन 108 नंबर डायल कर वाहन बुलाया और उसे अस्पताल ले गए पर तब तक देर हो चुकी थी। अपने मासूम बेटे की मौत के गम में इस मां की सांसे भी थम चुकी थीं।

एक साथ हुई अंत्येष्टि

रात करीब 11-30 बजे रीताबाई की मौत हुई थी। शुक्रवार को सुबह उनके शव का पोस्टमार्टम किया गया। डाक्टर्स ने बताया कि हार्टअटैक के कारण उनकी मौत हुई। शुक्रवार को दोपहर में मां और बेटे की एक साथ अंत्येष्टि की गई।

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???