Patrika Hindi News

Photo Icon  इस सरकारी अस्पताल में नहीं हो रहा गर्भवती महिलाओं का HIV टेस्ट

Updated: IST pregnant women
मेडिकल में एक माह से निराश होकर लौट रहीं महिलाएं,पीपीटीसीटी सेंटर में रोज 60 से 100 महिलाएं मायूस होकर लौट रही हैं

जबलपुर। मेडिकल कॉलेज अस्पताल में एक माह से गर्भवती महिलाओं का एचआईवी टेस्ट नहीं हो रहा है। पीपीटीसीटी सेंटर में रोज 60 से 100 महिलाएं मायूस होकर लौट रही हैं। मप्र राज्य एड्स नियंत्रण सोसायटी ने मेडिकल के डीन को निर्देश दिया है कि एक सप्ताह के भीतर टेस्ट की व्यवस्था कराई जाए।

अक्टूबर के अंतिम सप्ताह से एचआईवी टेस्ट बंद है। पीपीटीसी सेंटर में लैब टेक्नीशियन नहीं होने से सैम्पल नहीं लिए जा रहे हैं। जिन महिलाओं को पॉजिटिव पाया जाता है, एआरटी सेंटर से उनकी दवा शुरू की जाती है। जिन मां-बच्चे का फॉलोअप हो रहा है, उन्हें भी बाद में बुलाया जा रहा है।

पीपीटीसीटी सेंटर में दो लैब टेक्नीशियन थे। मप्र राज्य एड्स नियंत्रण सोसायटी के आदेश पर एक को एआरटी सेंटर, मेडिकल में तैनात किया गया। दूसरे ने काम छोड़ दिया। उसी समय से खून की जांच बंद है, जबकि काउंसलिंग हो रही है।

फैक्ट फाइल

8174 महिलाओं की काउंसिलिंग इस साल नवम्बर तक
7552 महिलाओं का ही टेस्ट इस अवधि में

इनका कहना है कि

पीपीटीसीटी सेंटर की समस्या संज्ञान में है। लैब टेक्नीशियन नहीं हैं। जल्द ही जांच की व्यवस्था की जाएगी।
डॉ. रूपलेखा चौहान, डीन, मेडिकल

यह भी पढ़े :
अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???