Patrika Hindi News

गरीबों की दुकान में अमीरों का कब्जा

Updated: IST The capture of the rich in the poor shop
नगरपालिका के गरीबों की दुकान में अमीरों का कब्जा जमाया है। हद तो तब हो जा रही है जब संचालकों द्वारा इन दुकानों के सामने सड़क को कब्जा कर पंडाल बना लिया है।

जांजगीर-चांपा. नगरपालिका के गरीबों की दुकान में अमीरों का कब्जा जमाया है। हद तो तब हो जा रही है जब संचालकों द्वारा इन दुकानों के सामने सड़क को कब्जा कर पंडाल बना लिया है। इससे सब्जी मंडी आने जाने वालों को मुसीबतों का सामना करना पड़ता है।

सब्जी मंडी जाना हो तो पैदल जाने अधिक सुविधा होगी। क्यों कि स्वावलंबन की दुकानों में अमीरों का कब्जा है।10 साल पहले नगरपालिका जांजगीर नैला में तकरीबन पांच दर्जन स्वालंबन की दुकाने बनाई है। इन दुकानों में तकरीबन एक दर्जन दुकाने सब्जी मंडी के आसपास बनाई गई है।

इन दुकानों को बीपीएल कार्डधारियों के नाम अलाटमेंट किया गया है। गरीब वर्ग के लोग अपनी दुकानों को लाखों में बिक्री कर अमीरों के नाम कर दिया है।

अमीर वर्ग के लोग इन दुकानों में फल किराना दुकान, फोटोकापी सेंटर, मनिहारी सहित अन्य दुकान बना लिए हैं। हद तो तब हो जा रही है जब इन दुकान के संचालकों के द्वारा अपने दुकान के सामने पूरी सड़क को घेरकर लोगों के लिए मुसीबत खड़ी कर दिया है।

सब्जी मंडी जाने के लिए लोगों को लोहे के चना चबाने से कम नहीं लगता। स्वावलंबन की दुकान संचालकों द्वारा सड़क की इतना घेरा लिया गया है कि लोगों को सब्जी बाजार जाने के लिए घंटों लग जाता है। नगरपालिका भी ऐसे दुकान संचालकों के खिलाफ कार्रवाई की बजाय आंख मूंदे बैठी है।

सब्जी मंडी में नहीं सुविधाएं

शहर के एक मात्र सब्जी मंडी में सुविधाएं नाम की चीज नहीं होती। बारिश के दिनों में घुटने भर का कीचड़ होने से शहर के लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

लोग कीचड़ से बचने सीधे बाजार में वाहन लेकर जाते हैंए लेकिन वहां भी वाहन रखने जगह नहीं होती। इससे लोगों को चौतरफा परेशानियों से जूझना पड़ता है।

शहर की सौ फीसदी जनता सुबह से लेकर शाम सब्जी बाजार जाते हैंए लेकिन यहां की सुविधा बढ़ाने नगरपालिका कोई इंतजाम नहीं करती। जिससे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

अपने विवाह के सपने को सपने भारत मैट्रीमोनी से साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???