Patrika Hindi News

कोर्ट से बंदी को भगाने में सहयोग करने वाले तीन आरोपी गिरफ्तार

Updated: IST Three accused arrested for helping the prisoner es
जेएमएफसी कोर्ट अकलतरा में पेशी के लिए ले जाए गए बंदी को भगाने में सहयोग करने वाले तीन आरोपियों को अकलतरा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बंदी ने पेशी के दौरान कोर्ट परिसर से तीन आरक्षकों को धक्का देकर भाग निकला था। मामले की जांच पुलिस कर रही थी। पुलिस ने बिलासपुर निवासी एक मास्टरमाइंड समेत उनके दो साथियों को भी पकडऩे में कामयाबी पाई है।

जांजगीर-चांपा. जेएमएफसी कोर्ट अकलतरा में पेशी के लिए ले जाए गए बंदी को भगाने में सहयोग करने वाले तीन आरोपियों को अकलतरा पुलिस ने गिरफ्तार किया है। बंदी ने पेशी के दौरान कोर्ट परिसर से तीन आरक्षकों को धक्का देकर भाग निकला था। मामले की जांच पुलिस कर रही थी। पुलिस ने बिलासपुर निवासी एक मास्टरमाइंड समेत उनके दो साथियों को भी पकडऩे में कामयाबी पाई है।

अकलतरा टीआई उमेश मिश्रा के मुताबिक साबित खान को कोर्ट से भगाने के लिए उसका रिश्तेदार बिलासपुर के धूरीपारा मंगला निवासी सोनू उर्फ सत्यप्रकाश मंगेशकर (21)पिता धनसाय ने दिमाग लगाया था। वह पहले जिला जेल जांजगीर में साबित खान से मिलने गया था और उसी दिन से साबित खान को भगाने के लिए कहानी रच डाली थी। इस काम के लिए उसने अकलतरा के जीवन दास मानिकपुरी को भी साथ लिया था।

तयसुदा प्लानिंग के मुताबिक पहले सोनू ने अपने साथी के जीवन दास के साथ कोर्ट परिसर में तैनात थे। जैसे ही कोर्ट परिसर की ओर साबित खान रहा था। तभी तीन आरक्षकों को झपट्टा मारते हुए बाइक में बिठाकर अकलतरा नहर के हनुमान मंदिर पास के होते हुए बिलासपुर की ओर भाग निकले। साबित खान को धुरीपारा मंगला स्थित उसके घर में छोड़ दिया। पुलिस गिरफ्त से छूटने के बाद साबित खान फरार हो गया है। बताया जा रहा है कि वह नागपुर की ओर भागा है। पुलिस उसके लिए मुखबिर लगा दिया है। जांच के दौरान पुलिस को इस मामले के सह आरोपी राहुल को भी गिरफ्तार करने में कामयाबी मिली है। साबित खान के साथ राहुल सोनी ने भी प्राणघातक हमले का आरोपी था।

साबुन लगाकर निकाली हथकड़ी- सोनू ने बताया कि कोर्ट परिसर से साबित खान को भगाने के बाद उसके हाथ में लगी हथकड़ी को निकलाने के लिए साबुन का प्रयोग किया। दरअसल हथकड़ी आसानी से निकल नहीं रहा था। इसकारण साबुन के झाग का प्रयोग करते हुए बड़ी मुश्किल से हथकड़ी को निकाला और धुरीपारा के झाडिय़ों में उसे छिपा दिया था। सोनू के निशानदेही पर हथकड़ी को पुलिस ने जब्त कर लिया है।

यह था मामला- अकलतरा थानांतर्गत अपराध क्रमांक 186 का आरोपी साबित खान पिता आबिद खान प्राणघातक हमला का आरोपी है। वह एक माह पहले धारा 307 के तहत गिरफ्तार हुआ था। उसे जांजगीर के जेल में बंद किया गया था। सोमवार को उसकी जेएमएफसी कोर्ट अकलतरा में पेशी थी। पुलिस लाइन जांजगीर के आरक्षक छत्तू सिंह कंवर, संतोष कंवर व लक्ष्मीनारायण राठौर उसे पुलिस के वाहन में बिठाकर अकलतरा कोर्ट ले जा रहे थे। वाहन से उतरकर कोर्ट परिसर की ओर जा ही रहे थे तभी बंदी साबित खान पिता आबिद खान तीन-तीन पुलिस वालों को धक्का देकर भाग निकला। तीनों पुलिस वालों को सस्पेंड कर दिया गया था।

अपने विवाह के सपने को भारत मैट्रीमोनी पर साकार करे।- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन करे!
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???