Patrika Hindi News
UP Scam

असलहे जमा कराने में रूचि नहीं ले रहे थानेदार

Updated: IST code of conduct
अब तक दस फीसदी लोगों से जमा कराए गए, हजारों बचे

जौनपुर. चुनाव के मद्देनजर असलहों को जमा कराने में थानेदार रूचि नहीं ले रहे हैं। थाना क्षेत्रों में मौजूद 10 फीसदी असलहों को ही अब तक जमा कराया जा सका है। वहीं असलहाधारी भी कोई न कोई जुगत लगाने में जुटे हैं कि उन्हें जमा न करना पड़े। आला अधिकारियों ने भी मातहतों को डांट पिलाई। निर्देश दिया कि जल्द ही अधिकतर असलहों को जमा करा लिया जाए।

हर चुनाव की तरह इस बार भी प्रशासन असलहों को जमा कराने संबंधी निर्देश जारी कर चुका है। थाना प्रभारियों को हिदायत दी गई कि मुस्तैदी के साथ जमा करा लिए जाएं। इसके बावजूद जिम्मेदार अफसरों ने असलहे जमा कराने में रूचि नहीं दिखाई। क्षेत्र में मौजूद असलहों में से अब तक दस फीसदी को ही जमा करने की सूचना प्रशासन को दी गई। इसमें कई असलहे ऐसे भी हैं जो आचार संहिता लगने से पहले किन्हीं कारणों से जमा कराए गए थे। आला अधिकारियों ने प्रगति रिपोर्ट देखी तो सभी को फटकार लगाई गई। सभी को असलहे जमा कराने में तेजी लाने को कहा गया।

ये है समस्या
चुनाव की तारीख दूर होने के कारण असलहाधारी अभी अपने असलहे जमा नहीं करवाना चाह रहे। वहीं क्षेत्र में रसूखदारों के असलहे जमा कराना भी आसान काम नहीं होगा। बहुत से लोग असलहों के साथ बाहर भी गए हुए हैं। उनके आने पर ही जमा कराया जा सकेगा। इसी बीच चुनावी ड्यूटी में थाना प्रभारी गैर जनपदों में जाएंगे। इससे भी जमा कराने की प्रक्रिया धीमी हो जाएगी।

एसपी भी हैं नाराज
थानेदारों की धीमी गति से एसपी अतुल सक्सेना भी नाराज हैं। उन्होंने मातहतों को निर्देश दिया कि जल्द ही अधिकतम असलहे जमा करा लिए जाएं। किस को छोड़ा न जाए। जो लोग जमा करने में जानबूझ कर देरी कर रहे हैं वे जमा कर दें। अन्यथा उन पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी।

इन थानों में ये है स्थिति
थाना असलहों की संख्या जमा संख्या
नगर कोतवाली 1349 86
लाइन बाजार 826 70
जफराबाद 268 74
केराकत 858 59
चंदवक 462 62
जलालपुर 419 35
गौरा 418 66
शाहगंज 497 26
सरपतहां 348 26
खेतासराय 425 145
खुटहन 301 64
बदलापुर 424 40
मछलीशहर 363 150

यह भी पढ़े :
विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं? निःशुल्क रजिस्टर करें ! - BharatMatrimony
LIVE CRICKET SCORE
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???