Patrika Hindi News

नवजात बच्ची को कबाड़ में फेंका 

Updated: IST newborn girl child
किसान ने अपनाया, मगर कुछ घंटे बाद हुई बच्ची की मौत

जौनपुर. सरायख्वाजा थाना क्षेत्र के भड़ौरा गांव के पास मानवता को झकझोरने वाला मामला सामने आया। बुधवार की सुबह एक नवजात बच्ची कबाड़ में कीड़े-मकोड़े से लिपटी हुई रोती-बिलखती एक चाय की दुकान के पास मिली। खबर फैली तो वहां लोगों की भीड़ जुट गई। गांव के एक किसान बच्ची को पालने की इच्छा जाहिर करते हुए अपने घर ले गए, लेकिन कुछ घंटे बाद ही उसकी मौत हो गई।

मल्हनी-कोइरीडीहा मार्ग पर भड़ौरा गांव के पास लबे सड़क रमन यादव की चाय की दुकान है। पास में ही कबाड़ रखा हुआ है। बुधवार की सुबह बच्चे के रोने की आवाज सुन वहां लोग जुट गए। पास जाकर देखा तो एक नवजात बच्ची पड़ी हुई थी। उसके शरीर पर कीड़े लिपट कर काट रहे थे। जिससे वह चीख कर रो रही थी। भीड़ में से गांव के ही एक किसान देवा यादव ने बच्ची को पालने की इच्छा जाहिर की। इसके बाद उसे लेकर अपने घर चले आए। वहां कुछ घंटे बाद ही बच्ची की मौत हो गई। चर्चा है कि बेटी पैदा होने पर किसी ने यहां फेंक दिया होगा। आसपास के निजी अस्पतालों में भी इस तरह के कार्य होते हैं। लोगों ने बाजार में चल रहे अवैध अस्पतालों की जांच कर कार्रवाई की मांग उठाई।

विवाह प्रस्ताव की तलाश कर रहे हैं ?भारत मैट्रीमोनी में निःशुल्क रजिस्टर करें !
Patrika.com

लेटेस्ट ख़बरें ई-मेल पर पाने के लिए सब्सक्राइब करें

Dus ka Dum
Ad Block is Banned Click here to refresh the page

???? ??????? ?? ??? ???? ????? ???